Scindia समर्थक पूर्व मंत्री का बयान- BJP में चपरासी बनने को भी तैयार, Congress ने ली चुटकी

MP: जिसके बाद कयास लगाए जा रहे थे कि हारे हुए सभी Scindia supporter मंत्रियों को निगम मंडलों में नियुक्ति दी जाएगी।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कांग्रेस (congress) छोड़ बीजेपी (bjp) में जाने के बाद सिंधिया समर्थक कुछ नेता लगातार निगम मंडलों में नियुक्ति की राह देख रहे हैं। इसी बीच आज मध्य प्रदेश में उप चुनाव (MP Byelection) की तारीखों का ऐलान कर दिया गया है। जिसके बाद Scindia समर्थकों में शामिल पूर्व मंत्री गिर्राज दंडोतिया द्वारा दिया बयान अब चर्चा का विषय बन गया है।

दरअसल गिर्राज दंडोतिया Scindia के साथ कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हुए थे हालांकि उप चुनाव (byelection) के समय वह चुनाव हार गए थे। जिसके बाद से माना जा रहा था कि उन्हें निगम मंडलों में नियुक्ति दी जाएगी। इसी बीच उपचुनाव के ऐलान के बाद दंडोतिया बीजेपी दफ्तर पहुंचे थे।

वही निगम मंडल में नियुक्ति की बात पर मीडिया से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि वह BJP में किसी पद की वजह से नहीं बल्कि जनता की सेवा के लिए आए हैं। अगर बीजेपी कार्यालय में उन्हें चपरासी का पद भी दिया जाएगा और झाड़ू लगाने को कहा जाएगा तो वह संकोच नहीं करेंगे। दंडोतिया ने कहा कि हमें कौन सी पद कब मिल रही है। यह हमारा संगठन तय करता है।

Read More: Morena News: लोकायुक्त एक्शन, 3 हजार की रिश्वत लेते दबोचे गए रोजगार सहायक

बता दें कि पिछले साल कांग्रेस छोड़ बीजेपी का दामन थामने के बाद गिर्राज दंडोतिया को मंत्री बनाया गया था। हालांकि 28 सीटों पर हुए विधानसभा उपचुनाव में Dimni सीट से दंडोतिया चुनाव हार गए थे। जिसके बाद कयास लगाए जा रहे थे कि हारे हुए सभी मंत्रियों को निगम मंडलों में नियुक्ति दी जाएगी। हालांकि अभी तक निगम मंडलों में इन नेताओं की नियुक्ति की सूची जारी नहीं की गई है जबकि उपचुनाव का ऐलान हो गया है।

वही अब Scindia समर्थक गिर्राज दंडोतिया (girraj dandotiya) के बयान पर कांग्रेस ने चुटकी ली है। कांग्रेस प्रवक्ता जेपी धनोपिया ने दंडोतिया पर निशाना साधते हुए कहा है कि गिर्राज जैसे नेताओं में नैतिकता नहीं बची है, उन्हें कुर्सी और पद की लालसा है, जिसके करण वह बीजेपी में शामिल हुए हैं।