दिग्गज तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों को कहा अलविदा, नाम कई शानदार रिकॉर्ड

Malinga के नाम दो T20 अंतरराष्ट्रीय हैट्रिक भी हैं।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। श्रीलंका के तेज गेंदबाज (Srilankan Pacer) लसिथ मलिंगा (lasith malinga) ने एक शानदार अंतरराष्ट्रीय करियर (international career) का अंत करते हुए टी20 क्रिकेट (T20 Cricket) से संन्यास (retirement) लेने का फैसला किया है। पेसर (pacer) ने यह घोषणा अपने सोशल मीडिया पर की। मलिंगा ने श्रीलंका (sri lanka) के लिए 30 टेस्ट मैच, 226 वनडे और 84 T20I खेले, जिसमें 546 विकेट लिए।

मलिंगा ने आखिरी बार श्रीलंका के लिए मार्च 2020 में वेस्टइंडीज के खिलाफ पल्लेकेले में एक टी20 मैच खेला था। अपने खतरनाक यॉर्कर (yorker) के लिए जाने जाने वाले तेज गेंदबाज, मलिंगा अपने 107 स्कैलप के साथ T20I क्रिकेट में अग्रणी विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। मलिंगा के नाम दो टी20 अंतरराष्ट्रीय हैट्रिक (hat-trick) भी हैं।

दिग्गज तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों को कहा अलविदा, नाम कई शानदार रिकॉर्ड

Read More: MP News: Shivraj के सख्त तेवर, बोले ‘डंडा लेकर निकला हूं, गड़बड़ करने वालों को नहीं छोडूंगा’

मलिंगा ने एकदिवसीय क्रिकेट में तीन हैट्रिक भी लीं। जिसमें उनका प्रदर्शन 2007 में वेस्टइंडीज में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विश्व कप में दर्ज किया गया था। मलिंगा ने अपनी फिटनेस पर काम करने और खेल के छोटे प्रारूपों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए 2011 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया।

दिग्गज तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों को कहा अलविदा, नाम कई शानदार रिकॉर्ड

मलिंगा ने 16.60 की स्ट्राइक रेट, 7.07 की इकॉनमी और 19.68 की औसत जैसे आश्चर्यजनक आंकड़ों के साथ समाप्त किया है। सन्यास से पहले वह 107 स्केल के साथ 100 T20 विकेट हासिल करने वाले पहले गेंदबाज थे। मालिनाग ड्वेन ब्रावो, इमरान ताहिर और सुनील नरेन के बाद सबसे अधिक विकेट लेने वाले वर्ग में चौथे स्थान पर हैं।

दिग्गज तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों को कहा अलविदा, नाम कई शानदार रिकॉर्ड

मलिंगा (malinga) ने कहा कि आज का दिन मेरे लिए बेहद खास है। मैं आप सभी का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं जिन्होंने मेरे पूरे टी20 करियर में मेरा साथ दिया। आज मैंने अपने टी20 गेंदबाजी जूतों को 100 फीसदी आराम देने का फैसला किया है।” उन्होंने कहा कि मैं श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड, मुंबई इंडियंस, मेलबर्न स्टार्स, केंट क्रिकेट क्लब, रंगपुर राइडर्स, गुयाना वॉरियर्स, मराठा वॉरियर्स और मॉन्ट्रियल को धन्यवाद देना चाहता हूं। अब मैं अपना अनुभव उन युवा क्रिकेटरों के साथ साझा करना चाहता हूं जो फ्रेंचाइजी क्रिकेट और अपनी राष्ट्रीय टीम के लिए खेलना चाहते हैं।