world asteroid day

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। asteroid day एक वार्षिक (annual) वैश्विक (global) तौर पर मनाया जाने वाला दिन है। Asteroid एक छोटा तारा होता है जो सूरज के इर्द-गिर्द मंडराता है। लेकिन कभी-कभी ये पृथ्वी (earth) से भी आ टकराता है। इस दिन को साइबेरियन तुंगुस्का की जयंती के रूप में मनाया जाता है। साइबेरियन तुंगुस्का 30 जून, 1908 को हुआ था। ये अब तक की सबसे हानिकारक asteroid संबंधित घटना है। asteroid day को मनाने का उद्देश्य है asteroid के बारे में जागरूकता (awareness) फैलाना और इससे पृथ्वी को होने वाले नुकसानों के बारे में विचार करना। आइए जानते हैं asteroids के बारे में कुछ दिलचस्प बातें:

यह भी पढ़ें… कोरोना मृतक के मुआवजे पर SC का बड़ा फैसला, दिग्विजय सिंह ने किया स्वागत

* Asteroid नाम 1802 में रखा गया था। इसका अर्थ होता है तारे-जैसा।

* अब तक का सबसे छोटा asteroid जिसकी खोज हो सकी वो 6 मीटर चौड़ा है।

* पहला asteroid 1801 में पियज़ी ने खोजा था। इस asteroid का नाम सेरेस था।

* तारामंडल में इस वक्त लगभग 600,000 asteroid हैं।

* सबसे ज़्यादा asteroid, asteroid belt में पाए जाते हैं। asteroid belt mars और jupiter के बीच में पाई जाने वाली छल्लों की सीरीज है।

यह भी पढ़ें… पूर्व भाजपा विधायक के घर के सामने लगा ट्रांसफार्मर धूं धूं कर जला, उठी 20 ऊँची लपटें

* सेरेस न सिर्फ सबसे पहला पाया जाने वाला asteroid है बल्कि ये सबसे बड़ा asteroid भी है।

* एक asteroid लगभग 15 किमी चौड़ा होता है।

* Asteroids का कोई आकार नहीं होता है।

* Meteoroid asteroid का ही एक हिस्सा होता है जिसका आकार कर जैसा होता है। हर साल एक meteoroid पृथ्वी पर गिरता है।