Madhya Pradesh: प्रगति पर सरकार की ये योजना, लाखों स्कूलों-आँगनवाड़ियों को जल्द मिलेगा लाभ

MP में IMIS पोर्टल पर दर्ज करीब 95 हजार शालाओं (School) और 66 हजार से अधिक आँगनबाड़ियों में भी स्वच्छ पेयजल उपलब्ध करवाने के लिये नल कनेक्शन दिए जाने का कार्य प्रगतिरत है।

शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के लिए बड़ी खुशखबरी है। जल जीवन मिशन (Water Life Mission) में अब तक 39 लाख 1 हजार 181 घरेलू नल कनेक्शन दिए जा चुके हैं। वही अबतक स्कूल तथा आँगनबाड़ियों में 26 हजार से अधिक नल कनेक्शन दिए जा चुके हैं।इसके अलावा प्रदेश (Madhya Pradesh) में IMIS पोर्टल पर दर्ज करीब 95 हजार शालाओं (MP School) और 66 हजार से अधिक आँगनबाड़ियों में भी स्वच्छ पेयजल उपलब्ध करवाने के लिये नल कनेक्शन दिए जाने का कार्य प्रगतिरत है।

यह भी पढ़े.. MP Weather: 4 दिन बाद फिर लगेगी झमाझम की झड़ी, मप्र के इन जिलों में बारिश के आसार

दरअसल, समूची ग्रामीण आबादी के लिए एक करोड़ 3 लाख नल कनेक्शन दिए जाने का लक्ष्य रखा गया है।MP की करीब सवा 5 करोड़ ग्रामीण आबादी को नल कनेक्शन के जरिये गुणवत्तापूर्ण और पर्याप्त मात्रा में जल उपलब्ध करवाने के मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान के निर्देशों के अनुरूप जल जीवन मिशन के अन्तर्गत त्वरित कार्यवाही की जा रही है।मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के 2985 ग्रामों की शत-प्रतिशत आबादी को नल कनेक्शन से पानी उपलब्ध करवाने की व्यवस्था की जा चुकी है।

खास बात ये है कि खुद मुख्यमंत्री चौहान (Madhya Pradesh CM Shivraj Singh Chauhan) ने मिशन की समय-समय पर समीक्षा की है। ग्रामीण अंचल में माता-बहनों को नदी, कुँआ, तालाब, बावड़ी तक जाकर पानी लाने की जरूरत नहीं पड़े, इस उद्देश्य से लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग Government of Madhya Pradesh, Public Health Engineering Department)  ने जल जीवन मिशन के अन्तर्गत ग्रामीण पेयजल व्यवस्था को गति देकर ग्रामीण परिवारों को नल कनेक्शन के जरिये पानी उपलब्ध कराना प्रारम्भ कर दिया है। मिशन के कार्य मानव तथा अन्य संसाधनों के अभाव में करीब सवा वर्ष तक गतिशून्य से रहे हैं।

यह भी पढ़े.. Job Alert 2021: मध्य प्रदेश में इन पदों पर निकली है भर्ती, इतनी मिलेगी सैलरी

बता दे कि बीते दिनों मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ऐलान किया था कि 2023 तक MP के हर घर में नल के द्वारा जल प्रदान (Water Supply) किया जाएगा। इसके तहत जल जीवन मिशन (Water Life Mission) के अन्तर्गत प्रदेश के 8 जिलों के 4404 ग्रामों के लिए क्रियान्वित इन 10 समूह जलप्रदाय योजनाओं में 9 लाख 34 हजार 399 नल कनेक्शन (FHTC) लगाये जायेंगे। जलप्रदाय योजनाओं के दायरे में आने वाले सभी 4404 ग्राम शत-प्रतिशत नल कनेक्शन युक्त हो सकेंगे।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सोच थी कि देश की ग्रामीण आबादी के लिए भी शहरों की ही तरह पेयजल की समुचित व्यवस्था होना चाहिए। “चाह से निकली राह” और प्रधानमंत्री मोदी (PM Narendra Modi) ने 15 अगस्त 2019 को लाल किले से राष्ट्रीय जल जीवन मिशन की घोषणा की। मिशन की गाइड लाइन जारी होते ही विभिन्न राज्यों ने अपने ग्रामीण क्षेत्र की जल व्यवस्था के लिए मिशन के अन्तर्गत कार्य प्रारम्भ किए ताकि गाँवों के हर घर में नल कनेक्शन दिया जा सके। मिशन पर होने वाला व्यय केन्द्र एवं राज्य सरकार (Madhya Pradesh Government) द्वारा बराबर-बराबर वहन किया जाता है।

यह भी पढ़े.. Indian Railways 2021 : 7 जुलाई से MP समेत इन राज्यों से चलेंगी दर्जनों स्पेशन ट्रेनें, यहां देखें पूरी लिस्ट