सीएम शिवराज सिंह का ऐलान-संबल योजना में शामिल होंगे तेंदूपत्ता संग्राहक, मई में शादियों पर बैन

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि तेंदूपत्ता की तुड़ाई करने वाले भाई बहनों को हम संबल योजना में शामिल करेंगे।

पीवी सिंधु शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। सीएम शिवराज सिंह चौहान  (Shivraj Singh Chauhan) ने आज सोमवार को
प्रदेश के 37 जिलों की 48 जिला यूनियनों को 27.35 लाख तेंदूपत्ता संग्राहकों 191.44 करोड़ रुपये की प्रोत्साहन पारिश्रमिक राशि का वितरण किया। इस मौके पर एक बड़ी घोषणा करते हुए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि तेंदूपत्ता की तुड़ाई करने वाले भाई बहनों को हम संबल योजना में शामिल करेंगे। दुर्घटना में मौत हुई तो, सामान्य मृत्यु, अंतिम संस्कार, बेटी की शादी, बेटा बेटी के जन्म पर इस योजना के तहत बहनों भाइयों को लाभ मिलेगा।

यह भी पढ़े…मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने की बड़ी घोषणा- इन्हें मिलेगी अनुकंपा नियुक्ति

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि COVID19 तेजी से नियंत्रित हो रही है, लेकिन असावधान हुए, तो फिर यह बढ़ सकती है, इसलिए मई महीने में शादी-विवाह अथवा भीड़भाड़ वाले किसी कार्यक्रम के आयोजनों पर प्रतिबंध लगा हुआ है। किल कोरोना अभियान में घर-घर सर्वे किया जा रहा है और आपसे आग्रह है कि टीम को सहयोग कीजिये। किसी को सर्दी, जुकाम, बुखार हो, तो टीम को बताइये; ये जांच और इलाज की व्यवस्था करवायेंगे। #COVID19 का समय पर इलाज हो, जाये तो आसानी से स्वस्थ हो सकते हैं।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि  सभी तेन्दूपत्ता संग्राहकों को संबल योजना में सम्मिलित किया जाएगा। इससे संबल योजना के सभी लाभ और कठिनाई के समय परिवारों को मिलने वाली सहायता तेन्दूपत्ता संग्राहकों को भी उपलब्ध हो सकेगी। कोरोना के कठिन काल में तेन्दूपत्ता संग्राहकों को जारी लाभांश का वितरण इन परिवारों के लिए राहत भरा होगा। इस बार वन विभाग ने तय किया है कि 86 केंद्रों पर बीज तोड़ के चिरौंजी निकाल के प्रोसेस कर के चिरौंजी बेचेंगे। अभी अचार के बीज के पूरे दाम नहीं मिलते। लेकिन चिरौंजी निकाल के बेचेंगे तो ज्यादा पैसा मिलेगा।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कार्यक्रम में वर्ष 2017, 2018 व 2019 के तेंदूपत्ता संग्रहण के बोनस के रूप में 191 करोड़ 45 लाख रूपए का वितरण किया गया। वर्ष 2017 की 40 करोड़ 56 लाख लाभांश की राशि 26 जिला यूनियनों की 81 समितियों को, वर्ष 2018 की 44 करोड़ 34 लाख लाभांश की राशि 34 जिला यूनियनों की 161 समितियों को और वर्ष 2019 की 106 करोड़ 55 लाख लाभांश की राशि 42 जिला यूनियनों की 593 समितियों को जारी की गई। उच्चतम लाभांश वाले प्रथम तीन जिले उमरिया, सिंगरौली और सतना है।