बाबा साहेब अंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस आज, प्रधानमंत्री मोदी ने दी श्रद्धांजलि

Baba Saheb Ambedkar

Babasaheb Ambedkar Mahaparinirvan Diwas : आज बाबा साहेब अंबेडकर का महापरिनिर्वाण दिवस है। भारतीय संविधान के जनक और दलितों के मसीहा कहे जाने वाले डॉ. भीमराव अंबेडकर का निधन 6 दिसंबर 1956 को हुआ था। उनकी पुण्यतिथि को उनके अनुयायी महापरिनिर्वाण दिवस के रूप में मनाते हैं।

महान समाज सुधारक और संविधान निर्माता डॉ. अंबेडकर

डॉ. अंबेडकर ने जीवन भर दलितों के हित में और वर्गवाद के खिलाफ संघर्ष किया। समाज में दलितों के खिलाफ होने वाले छूआछूत और महिलाओं को लेकर भेदभाव को खत्म करने के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। उनका जन्म 14 अप्रैल 1891 मध्य प्रदेश के महू में हुआ था और वो अपने माता-पिता की 14वीं संतान थे। उन्होने बॉम्बे विश्वविद्यालय से स्नातक करने के बाद, कोलंबिया विश्वविद्यालय और लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स में अर्थशास्त्र का अध्ययन किया और डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की। वे एक बहुत बड़े अर्थशास्त्री, समाजसुधारक, न्यायविद और राजनीतिज्ञ थे।1990 में उन्हें मरणोपरांत भारत का सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार ‘भारत रत्न’ सम्मान प्रदान किया गया।

Continue Reading

About Author
श्रुति कुशवाहा

श्रुति कुशवाहा

2001 में माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता विश्वविद्यालय भोपाल से पत्रकारिता में स्नातकोत्तर (M.J, Masters of Journalism)। 2001 से 2013 तक ईटीवी हैदराबाद, सहारा न्यूज दिल्ली-भोपाल, लाइव इंडिया मुंबई में कार्य अनुभव। साहित्य पठन-पाठन में विशेष रूचि।