Betul : पेट्रोल और रसोई गैस के बढ़ते दामों को लेकर अनोखा विरोध प्रदर्शन, निकाली गैस सिलिंडर की अर्थी

पेट्रोल और रसोई गैस के दाम कम करने की मांग को लेकर हो रहे इस प्रदर्शन में लोगों ने रसोई गैस की अर्थी निकाली और मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन कलेक्ट्रेट में सौंपा।

बैतूल, वाजिद खान। बढ़ती महंगाई ने आम आदमी की कमर तोड़ राखी है। जिसके चलते के पूरे मप्र (MP) में इसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहा है और उसी के चलते बैतूल (Betul) में अटल सेना नाम की समिति ने पेट्रोल और रसोई गैस के बढ़ते दामों को लेकर अनोखा विरोध प्रदर्शन किया। पेट्रोल और रसोई गैस के दाम कम करने की मांग को लेकर हो रहे इस प्रदर्शन में लोगों ने रसोई गैस की अर्थी निकाली और मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन कलेक्ट्रेट में सौंपा। यह विरोध प्रदर्शन शहीद भवन से शुरू होकर कलेक्ट्रेट पर खत्म हुआ।

यह भी पढ़ें…इंदौर में महिला अपराध रोकने के लिए बनाई गई स्पेशल टीम, महिलाओं से लेकर मासूम बेटियों की करेंगी रक्षा

लगातार बढ़ रहे रसोई गैस के दामों से नाखुश लोगों के अनुसार पहले सरकार ने उज्जवला योजना शुरू कर गरीबों को गैस कनेक्शन वितरित किये और जब अब इसकी आदत हो गयी तो रसोई गैस के दामों में बढ़ोत्तरी कर रही है, जिससे गरीबों का बजट बिगड़ रहा है। इसके अलावा केरोसिन तेल और लकड़ी भी उपलब्ध नहीं हैं जिससे गरीबों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। ज्ञापन में मांग की गई कि जल्द से जल्द पेट्रोल और गैस के दाम कम किये जायें ताकि आम आदमी की पहुँच में रहे।

Betul : पेट्रोल और रसोई गैस के बढ़ते दामों को लेकर अनोखा विरोध प्रदर्शन, निकाली गैस सिलिंडर की अर्थी

अटल सेना प्रमुख राजेंद्र सिंह चौहान ने आंदोलन की जानकारी देते हुए बताया आज के समय में महंगाई चरम सीमा पर पहुंच गई है ।जिसके चलते अटल सेना ने महिलाओं के साथ में मिलकर रसोई गैस की अर्थी निकाली। रसोई गैस आज 860 रुपए हो गई है। अकेले यही एक महंगाई नहीं है लकड़ी केरोसिन से लेकर पेट्रोल डीजल के दामों में भी बेतहाशा वृद्धि हुई है। जिससे आम आदमी का जीना मुश्किल हो चुका है। सरकार ने उज्ज्वला योजना लाखों सिलेंडर गरीबों को दिए लेकिन वह आज वही सिलेंडर बेच रहे हैं क्योंकि इतने महंगे दामों में गैस नहीं भगा सकते। और इन्हीं सब चीजों को लेकर आज हम ने विरोध प्रदर्शन किया और मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा है। वहीं डिप्टी कलेक्टर निशा बांगरे ने बताया कि महंगाई को लेकर कुछ महिलाओं द्वारा ज्ञापन दिया गया है। और ज्ञापन को हमने जिला स्तर के माध्यम से भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें… सीएम शिवराज ने राहुल गांधी पर कसा तंज- “विपक्ष भी अब मिला रहा प्रधानमंत्री मोदी की हां में हां”