FCI रिश्वत मामले में जबलपुर पहुंची सीबीआई, ट्रांसपोर्टरों के ठिकानों पर मारा छापा

एफसीआई रिश्वत मामले में भोपाल सीबीआई की टीम ने तीन ट्रांसपोर्टरों के यहां छापामार कार्रवाई की। वहीं नरसिंहपुर में भी सीबीआई ने ट्रांसपोर्टरों से पूछताछ की।

CBI-raided-

जबलपुर, संदीप कुमार। एफसीआई (FCI) रिश्वत मामले में भोपाल सीबीआई (CBI) और जबलपुर की एक टीम ने जबलपुर बल्देवबाग स्थित तीन ट्रांसपोर्टरों के ठिकानों पर दबिश दी। पूरे 5 घंटे तक तीन ट्रांसपोर्टरों के यहां कार्रवाई की गई। साथ ही एक टीम नरसिंहपुर जिले भी पहुंची जहां पर एक स्थान पर दबिश दी गई। हालांकि भोपाल के सीबीआई अफसर ने किस तरह की पूछताछ ट्रांसपोर्टरों से की और क्या सबूत जुटाए इसकी जानकारी यहां की टीम को नहीं दी गई है।

यह भी पढ़ें:-वैक्सीन के 10 हजार डोज गायब, स्वास्थ्य विभाग के उड़े होश

एफसीआई रिश्वत मामले में सीबीआई भोपाल से एक इंस्पेक्टर जबलपुर पहुंचे थे। स्थानीय सीबीआई की टीम के साथ बल्देवबाग स्थित तीन और नरसिंहपुर स्थित एक ट्रांसपोर्टरों के यहां टीम पहुंची थी। टीम ने उनके बैंक डिटेल्स और एफसीआई के डिविजनल मैनेजर के खाते में रकम जमा करने के बारे में पूछताछ की है। जबलपुर सीबीआई एसपी पीके पांडे ने बताया कि भोपाल से आए इंस्पेक्टर ने सर्चिंग में मदद के लिए टीम मांगी थी। यह पूरी कार्रवाई भोपाल सीबीआई की है। जांच की जद में आने वाले सभी लोग ठेके पर काम करने वाले कॉन्ट्रेक्टर और कुछ परिवहन से जुड़े लोग हैं।

सीबाआई के हाथ लगी डायरी

सीबीआई ने इसके अलावा भोपाल, विदिशा, खंडवा, झाबुआ, और महाराष्ट्र के नांदेड व जलगांव में भी छापामार कार्रवाई की है। पिछले दिनों भारतीय खाद्य निगम के चार अधिकारी और कर्मचारियों पर कार्रवाई के दौरान सीबाआई के हाथ एक डायरी भी लगी थी। इसके अलावा कुछ ठेकों में लेनदेन के बैंक डिटेल्स मिले थे। सीबीआई ने इन 13 जिलों में इन ठेकेदारों और परिवहन से जुड़े ट्रांसपोर्टरों के यहां सर्चिंग की कार्रवाई की है।