MP Board: बोर्ड परीक्षा में बदली 12वीं की छात्रा की कॉपी, 3 शिक्षकों पर बड़ी कार्रवाई

12वीं की एक छात्रा (Student) की कॉपी बदलने के मामले में माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) ने तीन मूल्यांकनकर्ताओं को तीन साल के लिए परीक्षा कार्य से प्रतिबंधित(Restricted)  कर दिया है।

MP board

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में 30 अप्रैल से 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं (MP Board Exam 2021) शुरु होने वाली है। वही माध्यमिक शिक्षा मंडल (Board of Secondary Education) द्वारा कक्षा 9वीं से 12वीं तक की प्रैक्टिकल परीक्षा(Practical exam 2021) के लिए 5 अप्रैल 2021 को टाइम टेबल जारी किया जाएगा।इसी बीच एक नया मामला सामने आया है। 12वीं की एक छात्रा (Student) की कॉपी बदलने के मामले में माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) ने तीन मूल्यांकनकर्ताओं को तीन साल के लिए परीक्षा कार्य से प्रतिबंधित(Restricted)  कर दिया है।

यह भी पढ़े.. MP Board: 10वीं और 12वीं सहित इन परीक्षाओं के लिए यहां जाने संशोधित सिलेबस

दरअसल, मामला पिछले साल यानि 2020 का 12वीं की परीक्षा का है।मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इस दौरान एक कॉमर्स की छात्रा यामिनी शर्मा को सप्लीमेंट्री Supplimentry) आई थी और कुल 100 में से 20 नंबर मिले थे। नंबर देख छात्रा को यकीन नहीं हुआ और उसने बोर्ड में पुनर्गणना और उत्तरपुस्तिका (Recalculation and answer book) पुन: जांचने के लिए आवेदन किया ।जांच में सामने आया कि ना सिर्फ कॉपी बदली गई थी बल्कि रोल नंबर में भी कांटछांट की गई थी।

इतना ही नहीं कॉपी में हस्तलिपि, परीक्षा कक्ष क्रमांक से लेकर परीक्षा की तारीख तक गलत थी। उसने जब दोबारा कॉपी चेक करवाई तो 100 मे से 64 अंक मिले,करीब 44 अंको की बढ़ोत्तरी हुई और वह द्वितीय श्रेणी से पास भी हुई।

इसके बाद माशिमं (MP Board) ने बड़ी कार्रवाई करते हुए उज्जैन जिले (Ujjain District) के तीन परीक्षक, उपमुख्य परीक्षक और मुख्य परीक्षक यानि अशासकीय संतमीर कान्वेंट स्कूल  नयापुरा (Private School) की शिक्षिका शोभा सक्सेना, शासकीय उमावि (Government School) महाराजवाड़ा के उच्चतर माध्यमिक शिक्षक डीएस कनेल, शासकीय हाईस्कूल बघेरा के प्राचार्य राज कुमार पोरवाल को परीक्षा (Exams) वर्ष 2021, 2022 व 2023 के लिए आयोजित किए जाने वाले सभी पारिश्रमिक संबंधी कार्यों से प्रतिबंधित किया है।

यह भी पढ़े.. निकाय चुनाव 2021: मप्र में BJP ने घोषित किए चुनाव प्रभारी, यहां देखें लिस्ट

इस मामले में छात्रा (Student) के पिता ने तीनों मूल्यांकनकर्ताओं पर जुर्माना लगाने की मांग की है। वही उन्होंने हाईकोर्ट (Highcourt) मे याचिका लगाने की भी बात कही है। इस कार्रवाई के बाद तीनों शिक्षकों (Teacher) में हड़कंप मच गया है।