प्रॉपर्टी रजिस्ट्री वालों को सीएम शिवराज सिंह चौहान ने दी बड़ी राहत, निर्देश जारी

शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री (Property Registry) कराने वालों को बड़ी राहत दी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आगामी 30 अप्रैल तक प्रचलित गाइडलाइन दरों पर ही रजिस्ट्री होंगी, इस अवधि में कोई दर नहीं बढ़ाई जाएगी। अतः रजिस्ट्री कराने में जल्दबाजी न की जाए।

यह भी पढ़े.. कृषि मंत्री कमल पटेल के कई बड़े ऐलान- किसानों के लिए बनेंगे प्रशिक्षण केन्द्र

दरअसल, देशभर में तेजी से बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए केंद्रीय गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने नई गाइडलाइन (Guideline) जारी की है, जो मप्र (MP) समेत पूरे देश में 1 अप्रैल से 30 अप्रैल 2021 से प्रभावी रहेगी, ऐसे में लोग 2021-22 की प्रस्तावित कलेक्टर गाइडलाइन में प्रॉपर्टी की बढ़ी हुई कीमतों को देखकर सैकडों की तादाद में रजिस्ट्री दफ्तर पहुंच रहे है। चुंकी भोपाल में पहले से ही कोरोना के आंकड़े गंभीर बने हुए और ऐसे में भीड़ से खतरा और बढ़ने की संभावना है, इसी के चलते मुख्यमंत्री ने यह फैसला लिया है।

वही दूसरी तरफ 27 मार्च को शनिवार और 28 को रविवार, 29 को होली, 2 अप्रैल को गुड फ्राइडे और 4 अप्रैल को रविवार का फिर अवकाश होगा और बैंक (Bank Holiday 2021) भी बंद रहेंगे, ऐसे में लोगों की भारी भीड़ उमड़ रही है,लोगों को डर है कि 1 अप्रैल से नई दरें लागू हो जाएगी, लेकिन ऐसा नहीं है। इस भ्रम को दूर करते हुए शिवराज सिंह चौहान के निर्देश दिए है कि आगामी 30 अप्रैल 2O21 तक प्रचलित गाइडलाइन दरों पर ही रजिस्ट्री होंगी। 30 अप्रैल तक दर नहीं बढ़ाई जाएगी।

यह भी पढ़े.. निकाय चुनाव से पहले मप्र के तहसीलदारों और नायब तहसीलदारों के लिए खुशखबरी

बता दे कि बीते दिनों ही सीएम ने बयान दिया था कि मकान, प्लाट, खेती की जमीन अगर पत्नी, बहन, बेटी के नाम से खरीद रहे हैं तो अब फिर रजिस्ट्री कराने पर 2 फीसद की छूट दी जाएगी। यह छूट रजिस्ट्री के लिए लगने वाली 5 फीसद स्टांप शुल्क में दी जाएगी। इससे शहरी क्षेत्र में होने वाली रजिस्ट्री 12.5 फीसद की जगह 10.5 फीसद पर होगी।