ममता बनर्जी पर सीएम का वार- राजनीति में कुछ स्थायी नहीं, परिस्थितियां बदलते देर नहीं लगती

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर लिखा है कि टीएमसी को जनता ने अपना रक्षक चुना लेकिन इस पार्टी के कार्यकर्ता जनता के भक्षक बने हुए हैं।

ममता बनर्जी

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पश्चिम बंगाल के विधानसभा चुनावों 2021 (West Bengal Assembly Elections  2021) की वोटिंग के बाद हुई हिंसा के बाद सियासत गर्मा गई है। मध्य प्रदेश से लेकर दिल्ली और दिल्ली से लेकर पश्चिम बंगाल तक नेताओं के बीच जुबानी हमले तेज हो गए है। अब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने ममता बनर्जी पर हमला बोला है।सीएम ने कहा है कि दीदी याद रखना राजनीति में कुछ भी स्थायी नहीं होता। परिस्थितियों को बदलते देर नहीं लगती है, अंतत: दण्ड भोगना ही पड़ता है।

यह भी पढ़े..संबल योजना: शिवराज सिंह चौहान आज हितग्राहियों के खातों में 379 करोड़ करेंगे ट्रांसफर

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीटर के माध्यम से ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुए लिखा है कि पश्चिम बंगाल  में जिस प्रकार से टीएमसी (TMC) के कार्यकर्ताओं द्वारा लोकतंत्र की हत्या की जा रही है, जनता पर अत्याचार किया जा रहा है, वह अत्यंत दुःखदायी और निंदनीय है। जनता ने अगर टीएमसी को जनादेश दिया है, तो उन्हें इसका सम्मान करना चाहिए।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर लिखा है कि टीएमसी को जनता ने अपना रक्षक चुना लेकिन इस पार्टी के कार्यकर्ता जनता के भक्षक बने हुए हैं और सिर्फ दो दिन में लोकतंत्र को खंडित कर दिया! ममता बनर्जी दीदी (Mamata Banerjee) को यह याद रखना चाहिये कि राजनीति में कुछ भी स्थायी नहीं होता है। परिस्थितियों को बदलते देर नहीं लगती है, अंतत: दण्ड भोगना ही पड़ता है।

बता दे कि नतीजों के बाद से पश्चिम बंगाल में टीएमसी और बीजेपी के बीच टकराव जारी है।बीजेपी ने टीएमसी पर कार्यकर्ताओं की हत्या और उनके घरों में तोड़फोड़ का आरोप लगाया है। नंदीग्राम समेत कई इलाकों में हिंसा की खबरों के बाद आज बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा बंगाल दौरे पर पहुंच रहे है।वही बीजेपी ने 5 मई को देशव्यापी धरना-प्रदर्शन करने का निर्णय लिया है।इधर 5 मई को ममता बनर्जी मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगी।