Congress ने अन्न उत्सव को बताया BJP का ब्रांड उत्सव, विरोध जताते हुए कही बड़ी बात

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। 7 अगस्त को प्रस्तावित मध्यप्रदेश (madhya pradesh) के अन्न उत्सव (food festival) को लेकर कांग्रेस विरोध पर उतर आई है। कांग्रेस (congress) का कहना है कि बाढ़ के हालात में सरकार अन्न उत्सव मनाकर गरीबों का मजाक उड़ा रही है । प्रधानमंत्री (PM Narendra Modi) और मुख्यमंत्री (CM Shivraj) के फोटो छपे थैले में अन्न देकर BJP अपनी ब्रांडिंग कर रही है। जिसका कांग्रेस पुरजोर विरोध करेगी।

ग्वालियर में कांग्रेस कार्यालय पर आयोजित पत्रकार वार्ता में जिला अध्यक्ष डॉ देवेंद्र शर्मा, ग्रामीण अध्यक्ष अशोक सिंह, प्रदेश महासचिव सुनील शर्मा और विधायक सतीश सिकरवार ने संयुक्त रूप से कहा कि ग्वालियर चंबल संभाग में बाढ़ ने सब तहस नहस कर दिया है। गरीब का घर उजड़ गया, गृहस्थी पानी में बह गई, इस समय उसे मदद की जरूरत है लेकिन मध्यप्रदेश सरकार अन्न उत्सव मनाकर अपना ब्रांड उत्सव मना रही है। ये बाढ़ पीड़ित गरीब के जख्मों पर नमक छिड़कने जैसा काम है।

Read More: केंद्रीय मंत्री Scindia की गृह मंत्री Amit Shah से बड़ी मांग, MP के इन 2 जिले को जल्द मिलेगी राहत

कांग्रेस ने कहा कि यदि सरकार को गरीबों की इतनी ही चिंता है तो अपनी ब्रांडिंग में खर्च कर रही करोड़ों रुपये का अन्न और मदद बाढ़ पीड़ितों को बांटे प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के फोटो छापकर क्या साबित करना चाहते हैं। कांग्रेस ने कहा कि आज गरीब की थाली खाली है। उसे दिये जाने वाला राशन उसे नहीं मिल रहा अब राशन बांटने के नाम पर भाजपा अन्न उत्सव मना रही है जिसका पुरजोर विरोध किया जायेगा।

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश सरकार 7 अगस्त को प्रदेश की सभी 25 हजार 435 उचित मूल्य दुकानों पर अन्न उत्सव का आयोजन करने वाली है। आयोजन के तहत प्रत्येक दुकान पर 100 हितग्राहियों को एक बैग में राशन सामग्री का वितरण किया जाएगा। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 11 बजे हितग्राहियों से संवाद भी करेंगे।