MPPSC : 11 अप्रैल को होने वाली परीक्षा रद्द करने की मांग, उम्मीदवारों में भारी आक्रोश

MPPSC

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एक तरफ MP में कोरोना (Coronavirus) के आंकड़े तेजी से बढ़ रहे है, वही दूसरी तरफ लॉकडाउन (Lockdown 2021) के बीच  लोक सेवा आयोग MPPSC द्वारा 11 अप्रैल को की परीक्षा होना है, ऐसे में छात्रों द्वारा सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक परीक्षा को रद्द करने की मांग उठाई जा रही है। इसको लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ज्ञापन तक भेजे गए है।

यह भी पढ़े..MPPSC: लॉकडाउन के बीच 11 अप्रैल को होगी प्रारंभिक परीक्षा, 67 केंद्र बनाए गए

दरअसल, 260 पदों के लिए मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोगद्वारा राज्यसेवा प्रारंभिक परीक्षा होना है।इसमें करीब 3 लाख से ज्यादा उम्मीदवार शामिल होंगे।इसके लिए प्रदेशभर में 800 केन्द्र बनाए गए है।PSC द्वारा पूरी तैयारियां की जा चुकी है, लेकिन कोरोना के चलते छात्रों द्वारा परीक्षा को आगे बढ़ाने की मांग की जा रही है। छात्रों द्वारा पीएससी मुख्यालय से लेकर मुख्यमंत्री तक ज्ञापन भेजे गए है। वही सोशल मीडिया पर #mppsc_prelims_11april_postpone_karo ट्रेंड कर रहा है।

छात्रों द्वारा तर्क दिया गया है कि जब गृह विभाग और पीईबी (PEB) द्वारा पुलिस भर्ती परीक्षा स्थगित, उच्च शिक्षा विभाग (Higher Education Department)  द्वारा कॉलेज-यूनिवर्सिटी (College) की परीक्षाएं  आगे बढ़ाने और स्कूल शिक्षा विभाग (School Education Department) द्वारा 15 अप्रैल से स्कूल बंद रखने का फैसला लिया जा रहा है तो फिर MPPSC के उम्मीदवारों की ही परीक्षा लेकर जान खतरे में क्यों डाली जा रही है।

यह भी पढ़े.. MP के आंकड़ों ने फिर चौंकाया, 2173 नए केस और 10 की मौत, CM ले सकते है बड़ा फैसला

सुत्रों के मुताबिक पीएससी में ही ओएसडी से लेकर परीक्षा विभाग से जुड़े अधिकारी-कर्मचारियों के भी कोरोना पॉजिटिव होने की खबर है।पिछले 72 घंटों की बात करें तो हर दिन 2000 से ज्यादा नए केस सामने आए है और 10 की रोजाना मौत हो रही है, बावजूद इसके ना तो मप्र सरकार द्वारा और ना ही PSC द्वारा कोई फैसला लिया गया है।हालांकि एक-दो दिन में एक बैठक होना है, उसमें कुछ निर्णय लेने की उम्मीद जताई जा रही है।

आपको बता दे कि MPPSC द्वारा जारी विज्ञापन के अनुसार, 260 पदों में 27 डिप्टी कलेक्टर, 13 डीएससी, 40 पद स्कूल शिक्षा विभाग में सहायक संचालक, 38 तृतीय श्रेणी पदों में नायब तहसीलदार, 88 अधीनस्थ लेखा सेवा के 88 आदि  पद घोषित किए गए हैं।इन पदों पर चयन प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू के आधार पर किय जाएगा।