Electricity Bill: बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी राहत, अब नहीं होना पड़ेगा परेशान

जिसमें उपभोक्ता की समस्त जानकारी जैसे उपभोक्ता का नाम, सर्विस कनेक्शन नंबर (Electricity Bill) और पता दर्ज होगा।

ऊर्जा मंत्री

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एक तरफ मप्र विद्युत नियामक आयोग ने बिजली की दरें 0.63% महंगी (Electricity Rates) कर आम आदमी को झटका दे दिया है।वही दूसरी तरफ मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने बिजली उपभोक्ताओं (Electricity Consumers) को राहत दी है।इसके बाद अब उपभोक्ताओं को अपने परिसर में लगे मीटर की रीडिंग के समय मीटर रीडर को सर्विस कनेक्शन नंबर उपलब्ध कराने के लिए पुराना बिल ढूंढने के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा।

यह भी पढ़े.. MP Weather: मप्र में जल्द शुरु होगा झमाझम का दौर, आज इन जिलों में बारिश के आसार

दरअसल,  मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी (Central Region Power Distribution Company) ने निम्नदाब उपभोक्ताओं की वर्तमान में चल रही मीटर रीडिंग (Electricity Meter Reading) की व्यवस्था को तकनीकी रूप से सुदृढ़ बनाते हुए उपभोक्ताओं को क्यूआर कोड आधारित मीटर रीडिंग की सुविधा उपलब्ध करा दी है। प्रथम चरण में इस सुविधा को भोपाल एवं ग्वालियर के एनजीबी सॉफ्टवेयर बिलिंग प्रणाली वाले शहरी क्षेत्रों में लागू किया जा रहा है। इस सुविधा के माध्यम से मीटर रीडर उपभोक्ता का सर्विस नंबर पूछे बगैर ही उपभोक्ता के परिसर के मीटर की सही रीडिंग अपने रिकार्ड में दर्ज कर सही देयक वास्तविक उपभोक्ता को उपलब्ध करा सकेगा।

कंपनी ने बताया है कि उपभोक्ता के परिसर में स्थापित मीटर पर मीटर रीडर द्वारा एक QR कोड आधारित स्टीकर चस्पा किया जाएगा जिसमें उपभोक्ता की समस्त जानकारी जैसे उपभोक्ता का नाम, सर्विस कनेक्शन नंबर (Electricity Bill) और पता दर्ज होगा। मीटर रीडर द्वारा उपभोक्ताओं के परिसर की मीटर रीडिंग लेते समय मीटर पर चस्पा क्यूआर कोड को अपनी डिवाइस से स्केन करते ही उपभोक्ता की सारी जानकारी उसके सामने कुछ सेकेंड में ही प्रदर्शित हो जाएगी। मीटर रीडर इस जानकारी को दर्ज कर तुरंत ही उपभोक्ता को बिल जनरेट कर उपलब्ध कराएगा।

यह भी पढ़े.. Driving Licence: अब बिना RTO टेस्ट के बनेगा ड्राइविंग लाइसेंस, 1 जुलाई से लागू होंगे नए नियम

बता दे कि मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी को ऐसी शिकायतें प्राप्त होती हैं कि मीटर रीडिंग के समय मीटर रीडर द्वारा सर्विस कनेक्शन नंबर मांगा जाता है जो कतिपय कारणों से उपलब्ध कराने में उपभोक्ताओं को असुविधा का सामना करना पड़ रहा था। ऐसी अवस्था में विद्युत वितरण कंपनी ने उपभोक्ताओं को क्यूआर कोड आधारित मीटर रीडिंग की सुविधा देना शुरू कर दिया है। इस सुविधा के माध्यम से उपभोक्ता एवं कंपनी के समय की भी बचत होगी। साथ ही बिल (Electricity Bill) में गलत जानकारी के कारण होने वाली त्रुटियों की संभावना समाप्त होगी।

जून में मालवा-निमाड़ में 17 फीसदी ज्यादा बिजली वितरण

म.प्र. पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने इस जून माह में पिछले वर्ष के जून की तुलना में 17 फीसदी ज्यादा बिजली वितरित की है। जून 2021 में कुल 187 करोड़ यूनिट बिजली का गुणवत्ता के साथ वितरण हुआ। इंदौर शहर में 16 जून को रिकार्ड एक करोड़ तीन लाख यूनिट की आपूर्ति की गई।ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Energy Minister Pradyuman Singh Tomar) के निर्देशानुसार मालवा और निमाड़ के सभी 15 जिलों में गुणवत्ता से बिजली वितरण हो रहा है। जून में 187 करोड़ यूनिट बिजली का वितरण हुआ है, जो पिछले वर्ष के जून की तुलना में 27 करोड़ यूनिट ज्यादा है।

गौरतलब है कि हाल ही में मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा संभाग स्तर पर बूस्ट रेवेन्यू एंड इम्प्रूव कंज्यूमर सर्विसेज (BRICS) योजना-2021 भी लागू की गई है। इस योजना (Electricity) के तहत कंपनी मुख्यालय द्वारा संभाग स्तर पर प्रत्येक संभाग के उपमहाप्रबंधक से त्रैमासिक परफॉरमेंस के आधार पर एक MOU हस्ताक्षरित किया जाएगा एवं संभाग स्तर पर बिजली उपभोक्ताओं की सुविधाओं में विस्तार एवं उपभोक्ता संतुष्टि में वृद्धि करने, निर्बाध एवं गुणवत्तापूर्ण विद्युत आपूर्ति करने तथा कंपनी के राजस्व को बढ़ाने के लिए जरूरी व्यवस्थाओं के लिए अतिरिक्त फंड उपलब्ध कराया जाएगा।

यह भी पढ़े.. MP School: स्कूल शिक्षा विभाग ने छात्रों को दी बड़ी राहत, कलेक्टरों को जारी निर्देश