मप्र में आंकड़ों ने फिर चौंकाया, 12758 नए केस, 105 मौतें, 7 मई तक कोरोना कर्फ्यू

मप्र

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मप्र (MP) में दूसरी लहर से तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमितों (MP Fight Corona) के आंकड़ों को देखते हुए 7 मई तक कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) बढ़ा दिया गया है। पिछले 24 घंटे में 12758 नए कोरोना पॉजिटिव सामने आए है और 105 की मौत हो गई । इसमें इंदौर और भोपाल में एक बार फिर रिकॉर्ड 1800 के पार नए केस मिले है वही ग्वालियर में फिर 1000 के पार और जबलपुर में 800 के करीब केस सामने आए है।वही इंदौर में 10 और स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी (Health Minister Prabhuram Chaudhary) के गृह जिले रायसेन में 9 मौतें हुई है।

यह भी पढ़े.. मप्र के 18 जिलों पर विशेष फोकस, सीएम शिवराज सिंह बोले- संक्रमण की चैन तोड़ना जरुरी

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, मप्र में पिछले 24 घंटे में 12758 नए कोरोना पॉजिटिव सामने आए है और 105 की मौत हो गई ।जो एक दिन में अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। इससे पहले 23 अप्रैल को 104 कोरोना संक्रमितों ने दम तोड़ा था।  इसमें इंदौर में 1811, भोपाल 1853, ग्वालियर में 1024, जबलपुर में 795, रीवा में 331, टीकमगढ़ 349 और दतिया 269 नए मामले सामने आए है। वही एक दर्जन जिलों में 200 से ज्यादा केस मिले है।वही करीब 2 दर्जन जिलों में 150 से ऊपर केस मिले है।

वही इंदौर में 10, रायसेन में 9 भोपाल-दतिया में 5, ग्वालियर-जबलपुर में 7, विदिशा-रतलाम-बैतूल-नीमच-सीधी में 4-4 के अलावा अन्य जिलों में 2-2,3-3 की मौत हुई है। इंदौर और भोपाल में एक्टिव केसो की संख्या 13 हजार, ग्वालियर में 9 हजार और जबलपुर में 5 हजार के पार हो गई है।

यह भी पढ़े.. मध्य प्रदेश में 29 और 30 अप्रैल नहीं लगेगी कोरोना वैक्सीन, ये है बड़ा कारण

सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने कहा कि 7 मई तक कोरोना कर्फ्यू का कड़ाई से पालन करायें। प्रदेश के कुछ जिलों में नए पॉजिटिव केस निरंतर बढ़ रहे हैं। प्रदेश के इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, जबलपुर और उज्जैन में इन केसों में निरंतर वृद्धि हो रही है। संक्रमण की चेन तोड़ने में सबसे ज्यादा कारगर उपाय कोरोना कर्फ्यू है। जनता को प्रेरित कर इसका कड़ाई से पालन सुनिश्चित करें।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि  जनता कर्फ्यू कोई लॉकडाउन (Lockdown) नहीं है, जनता द्वारा स्वयं संक्रमण से सुरक्षा के लिए लिया गया निर्णय है। जिलों के जिन क्षेत्रों में संक्रमण दर अधिक है वहाँ किल कोरोना अभियान-2 चलाया जा रहा है। इसके अंतर्गत रीवा, सीहोर, सतना, रायसेन, दतिया, अनूपपुर, नीमच, शिवपुरी, नरसिंहपुर और श्योपुर आदि जिले हैं। संक्रमण प्रभावित क्षेत्रों में माइक्रो कन्टेनमेंट क्षेत्र घोषित कर संक्रमण को वहीं रोक दें।

यह भी पढ़े.. मप्र में 7 मई तक सख्ती, सीएम शिवराज सिंह बोले- कर्फ्यू का कड़ाई से पालन कराएं

 

मप्र मप्र