दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना रिटर्न्स (corona returns) जिस तरह से देश भर को अपनी चपेट में ले रहा है वो काफी भयावह (scary) है। ऐसे में वैक्सिनेशन (vaccination) ही एक मात्र उम्मीद नज़र आ रही है। लेकिन अब दिल्ली (delhi) के गंगाराम अस्पताल  (gangaram hospital)  में ऐसी घटना हुई है जिसके बाद ये कहना गलत नहीं होगा की कोरोना अजेय है। बात दें कि गंगाराम अस्पताल में 37 डॉक्टर्स (doctors) कोरोना संक्रमित (corona infected) पाए गए हैं। जिनमें से 32 डॉक्टर्स होम आइसोलेशन में हैं वहीं 5 डॉक्टर्स की स्थिति ज़्यादा गंभीर होने से उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। सबसे ज़्यादा चिंताजनक बात ये है कि संक्रमित पाए गए सभी डॉक्टर्स को कोरोना का टीका लगाया जा चुका है।

गंगाराम अस्पताल में एक साथ 37 डॉक्टर्स के कोरोना संक्रमित पाए जाने से हड़कंप मच गया। अस्पताल कर्मचारियों के अनुसार इन सभी डॉक्टर्स में कोरोना के हल्के या माइल्ड लक्षण देखे गए हैं। माना जा रहा है कि ये सभी डॉक्टर्स बीते 5 दिनों के अंदर ही संक्रमित हुए हैं।

यह भी पढे़ं… सीएम शिवराज ने बुलाई कैबिनेट की बैठक, इन मुद्दों पर होगी चर्चा

राजधानी में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए रात 10 बजे से लेकर सुबह 5 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगाया गया हैं। दिल्ली में सभी जरूरी सेवाएं चालू रहेंगी। ट्रैफिक आवागमन पर भी कोई रोक-टोक नहीं है। ई-पास दिखाकर लोग जिस काम से निकले हैं वो करने जा सकते हैं। प्राइवेट डॉक्टर्स, नर्स आदि को आईडी कार्ड दिखाने पर छूट मिलेगी। इसके साथ ही मीडियाकर्मी को भी ई पास दिखाने पर छूट मिलेगी। मास्क लगाना और सोशल डिस्टेंसिंग के पालन को लेकर प्रशासन सख्त रहेगा।