गोविंद राजपूत ने अरुण यादव से पूछा- “आपमें दिग्विजय सिंह की आत्मा कब से आ गई”

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश के राजस्व व परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अरुण यादव पर कटाक्ष किया है। दरअसल ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर किए गए अरुण यादव के ट्वीट पर गोविंद राजपूत ने यह टिप्पणी की है।

इंदौर-मंदसौर शराब कांड पर बोले लक्ष्मण सिंह, कहा -मप्र में राजस्थान की तर्ज पर बनाई जाए शराब नीति

प्रदेश के राजस्व परिवहन मंत्री गोविंद राजपूत ने कांग्रेस नेता अरुण यादव को आड़े हाथों लेते हुए उन पर कटाक्ष किया है। दरअसल पूरा मामला केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के द्वारा छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर किए गए एक ट्वीट से जुड़ा है। सिंधिया ने ट्वीट में लिखा था “भूपेश बघेल अपने दामाद का निजी महाविद्यालय बचाने के लिए उसे सरकारी कोष से खरीदने की कोशिश में है। प्रदेश की राशि का उपयोग अपने दामाद के लिए, वह भी एक ऐसा मेडिकल कॉलेज जिस पर धोखाधड़ी के आरोप मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा लगाए गए थे। कौन बिकाऊ है कौन टिकाऊ इसकी परिभाषा अब साफ है।”

ट्वीट का जवाब अरुण यादव ने सिंधिया पर हमला करके दिया था। यादव ने अपने ट्वीट में लिखा था “जिस सिंधिया परिवार ने पूरे ग्वालियर, उज्जैन, शिवपुरी में अरबों रुपए की जमीनें बेच खाई हो। अपने समर्थकों सहित कीमत लेकर बिक चुके हो, वह दूसरों पर आधार एवं तथ्यहीन आरोप लगा रहे हैं।” अरुण यादव के इसी ट्वीट पर कटाक्ष करते हुए गोविंद सिंह राजपूत ने ट्वीट किया है “अरुण यादव जी आप को कांग्रेस ने दूध में से मक्खी की तरह निकाल कर फेंक दिया। अगर आप आसमान पर थूकेगे तो थूक स्वयं के मुंह पर ही आकर गिरेगा।” गोविंद राजपूत ने आगे लिखा है “इसलिए मेरा आग्रह है, दूसरों की तरह बड़े बोल ना बोलें। आपका स्वभाव एक संयमी व्यक्ति का था। यह दिग्विजय सिंह जी की आत्मा आप में कब से प्रवेश कर गई।” गोविंद सिंह राजपूत ने एक और पूर्व मंत्री जीतू पटवारी को भी जमकर नसीहत ने दी है जिन्होंने सिंधिया को लेकर विरोधी ट्वीट किए थे।