MP को इस रोग से मुक्त करने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने शुरू किया Mass Campaign

MP

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना और डेंगू के बीच लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग प्रदेश को फाइलेरिया रोग से मुक्त करने के लिए भी अभियान चला रहा है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कहा है कि फाइलेरिया (filaria) रोग से प्रदेश को मुक्त करेंगे। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग फाइलेरिया रोग से प्रभावित जिलों में पूरे जन-समूह को फाइलेरिया निरोधक दवाई की खुराक देने का अभियान (मास ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन) संचालित कर रहा है। सोमवार को दतिया जिले में मास ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन अभियान का शुभारंभ किया गया है। एक सप्ताह तक यह अभियान जारी रहेगा। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने दतिया जिले में वर्चुअली अभियान की समीक्षा करने के बाद यह बात कही।

लापरवाही ! वैक्सीन लगवाते समय युवक के हाथ में टूटी सुई, अब हाथ-पैर नहीं कर रहे काम

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि इस माह दतिया और छतरपुर जिले में फाइलेरिया मास ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन अभियान संचालित किया जा रहा है। दतिया में सोमवार 20 सितंबर से अभियान शुरू किया गया है। छतरपुर जिले में 27 सितंबर से अभियान शुरू किया जायेगा। उन्होंने बताया कि अभियान में जिले के 2 वर्ष से अधिक आयु के सभी नागरिकों को डीईसी और अल्बेन्डाजोल दवाई की खुराक दी जा रही है। दतिया जिले में 3 हजार टीमें इस कार्य को कर रही हैं। फाइलेरिया निरोधक दवाई की खुराक देने वाली टीमों के कार्य की मॉनिटरिंग के लिये 300 पर्यवेक्षक नियुक्त किये गये हैं। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी दतिया से वर्चुअली संवाद कर अभियान की समीक्षा की।