ऑक्सीजन शॉर्टेज के मद्देनजर अमेरिका ने भारत भेजे 300 ऑक्सीजन कन्संट्रेटर

अमेरिका (america) ने भारत में हो रही ऑक्सीजन की शॉर्टेज (oxygen shortage) को देखते हुए तीन सौ से अधिक ऑक्सीजन कन्संट्रेटर (oxygen concentrators) भारत भिजवाए हैं।

रतलाम

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। भारत में कोरोना महामारी (corona pandemic) के भयंकर प्रकोप से देश में ऑक्सीजन (oxygen) की कमी चल रही है। कई कोरोना संक्रमितों ने ऑक्सीजन के अभाव में दम तोड़ दिया है तो वहीं कई लोग ऑक्सीजन की तलाश में दर-दर भटक रहे हैं। सरकार के तमाम प्रयासों के बावजूद सभी ज़रूरतमंदों (needy) के लिए ऑक्सीजन की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। ऐसी विकट परिस्थितियों में विकसित देशों (developed countries) ने भारत की मदद हेतु हाथ बढ़ाया है। अमेरिका (america) ने भारत में हो रही ऑक्सीजन की शॉर्टेज (oxygen shortage) को देखते हुए तीन सौ से अधिक ऑक्सीजन कन्संट्रेटर (oxygen concentrators) भारत भिजवाए हैं। इन कन्संट्रेटर को अमेरिका के जेएफके एयरपोर्ट से लोड कर के दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचाया गया। आज दोपहर में ये कन्संट्रेटर दिल्ली पहुंच गए हैं।

यह भी पढे़ं… जबलपुर : हाईकोर्ट की केंद्र सरकार को कड़ी फटकार, कहा- ऑक्सीजन का निर्बाध परिवहन सुनिश्चित करे

रिपोर्ट के मुताबिक इन 300 ऑक्सीजन कन्संट्रेटर के अलावा भी अमेरिका अगले 2 दिन में 600 ऑक्सीजन कन्संट्रेटर और भेजेगा। इसके अलावा आने वाले कुछ सप्ताहों में एयर इंडिया निजी प्रतिष्ठानों के लिए करीब 10 हजार ऑक्सीजन कन्संट्रेटर लाने के लिए प्रयासरत होगी।

यह भी पढे़ं… नेताओं पर कोरोना का कहर जारी, दो और बीजेपी विधायकों की रिपोर्ट पॉजिटिव

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ऑक्सीजन कन्संट्रेटर वो यंत्र या मशीन होती है जिसके ज़रिए हवा से ऑक्सीजन को बनाया जा सकता है। इन कन्संट्रेटर के आजाने से अब देश में ऑक्सीजन की भारी किल्लत में कुछ तसल्ली मिलेगी। इसके साथ ही केंद्र सरकार ने ऑक्सीजन शॉर्टेज के बीच देश के सभी जिला अस्पतालों में प्रेशर स्विंग एब्जॉर्पशन मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट लगाने का फैसला किया है। इसके लिए पीएम मोदी ने लगभग 551 प्लांट को पीएम केयर फंड के ज़रिए मंजूरी भी दे दी है।