इंदौर- प्रभारी मंत्री के नाम से बीजेपी नेता ने अस्पताल संचालक को धमकाया, ऑडियो वायरल

इंदौर, आकाश धोलपुरे। कोरोना काल (corona) में अस्पताल में बेड,ऑक्सीजन, वेंटिलेटर की कमी बनी हुई है। इस बीच लोग अपने मरीज को भर्ती कराने के लिए तमाम प्रयास कर रहे हैं जो स्वाभाविक भी है। लेकिन मरीज के नाम पर किसी डॉक्टर को धमकाना कितना उचित है? इंदौर में एक ऐसा ही मामला सामने आया है जिसमें एक बीजेपी नेता (bjp leader), प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट का नाम लेकर अस्पताल संचालक को धमका (threat) रहा है। इसमें वो संचालक को सीधे सीधे देख लेने की धमकी दे रहा है।

देश में कोरोना मामलों में आई मामूली गिरावट, स्थिति अभी भी चिंताजनक

इस फोन पर पप्पू शर्मा नाम का व्यक्ति अस्पताल संचालक डॉ संदीप श्रीवास्तव को फोन पर धमका रहा है। मामला किसी मरीज को अस्पताल में भर्ती कराने से जुड़ा है। पप्पू शर्मा कह रहे हैं कि ‘मैंने तीन दिन से आपको बोल रखा है, तीन दिन में क्या कोई आईसीयू बेड खाली नहीं हुआ है। मुझे कोई दिक्कत नहीं है, आप मना कर दीजिए कि नहीं होगा। माननीय प्रभारी मंत्रीजी बोल रहे हैं और आप इतने दिन से हल्के में ले रहे हैं।’ इसके बाद वो धमकाने पर उतर आए। पप्पू शर्मा ने डॉक्टर से कहा कि ‘आप बोल दो नहीं कर पाऊंगा, हमें कोई दिक्कत नहीं है। आप मेरा नाम लिख लो पप्पू शर्मा। मैं छाती ठोंक कर बात करता हूं। अगर हमारा काम नहीं होगा तो कैसे होगा। 15-20 दिन में कोरोना  चला जाएगा। हॉस्पिटल को इसी क्षेत्र में रहेगा न। सारी पार्किंग यहीं हो रही है, फिर देखें कौन गाड़ी खड़ा करता है। फिर देखता हूं आप कौन से संदीप श्रीवास्तव हो, छाती ठोंक कर चौराहे पर खड़े रहेंगे हम।’

इस पूरे संवाद में डॉक्टर कोशिश कर रहे हैं कि पप्पू शर्मा को शांत कराया जाए और बात को संभाल लिया जाए। लेकिन मंत्रीजी के करीबी इतने नाराज हैं कि वो लगातार फोन पर धमकाने वाले अंदाज में बात कर रहे हैं। अब फोन पर हुई ये बातचीत वायरल (audio viral) हो रही है।