दमोह उपचुनाव के बाद एक्शन: जयंत मलैया को कारण बताओ नोटिस, सिद्धार्थ समेत 5 निलंबित

पूर्व विधायक  जयंत मलैया को भी दमोह विधानसभा उपचुनाव के दौरान पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

जयंत मलैया

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। दमोह उपचुनाव (Damoh Byelection0 में बीजेपी (BJP) को मिली करारी हार के बाद पार्टी ने बड़ी कार्रवाई की है। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा (VD Sharma) के निर्देशानुसार जयंत मलैया (Jayant Malaiya)  को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।वही उनके बेटे सिद्धार्थ मलैया (Siddharth Malaiya)  समेत पांच दमोह के मंडल अध्यक्ष को प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया गया है।

यह भी पढ़े.. सरकारी नौकरी 2021: सीधे इंटरव्यू और सैलरी 75 हजार, जानें कैसे करना होगा आवेदन

दरअसल, दमोह विधानसभा उपचुनाव के दौरान पार्टी विरोधी गतिविधियों में भाग लेने के कारण भारतीय जनता पार्टी ने दमोह जिले के अपने पांच मंडल अध्यक्षों और प्रशिक्षण प्रकोष्ठ के जिला संयोजक सिद्धार्थ मलैया को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया है।भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के निर्देशानुसार की गई इस कार्यवाही के साथ-साथ पूर्व विधायक  जयंत मलैया को भी दमोह विधानसभा उपचुनाव के दौरान पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

यह भी पढ़े.. चर्चा में ग्वालियर के पूर्व विधायक का लेटर, आयुक्त से की यह मांग

बता दे कि हाल ही में संपन्न हुई दमोह उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी अजय टंडन ने बीजेपी प्रत्याशी राहुल लोधी को 17 से ज्यादा वोटों से हराया था। वही रिजल्ट के बाद राहुल लोधी ने मलैया परिवार पर हार का ठीकरा फोड़ते हुए उचित कार्रवाई की मांग की थी, इसके बाद करीब 5 दिन बाद जयंत मलैया और उनके बेटे पर यह कार्रवाई की गई है।

 

 

जयंत मलैया