‘सिंधिया, दिग्विजय, कमलनाथ ठान लें तो भाजपा के 10 से ज्यादा विधायक टूटकर आ जाएंगे’

labour-minister-claim-bjp-legislature-is-in-contact-with-congress

गुना। भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय द्वारा ऊपर से आदेश होने पर प्रदेश में सरकार पलटने के बयान पर श्रममंत्री संजू सिसौदिया ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कमलनाथ, दिग्विजय और सिंधिया तीनों ठान लें तो भाजपा के 10   विधायक टूटकर आ जाएंगे। कांग्रेस ने जो वायदे अपने वचनपत्र में किए हैं, अब उन्हें पूरा करने का समय है। प्रदेश का खजाना खाली है। ऐसे में भी कांग्रेस के इतने जनहितैषी निर्णण सराहनीय हैं।

उन्होंने कहा कि श्रमिकों की योजनाओं में हुए घोटालों की फाइलें तैयार हैं, जिनकी जल्दी ही जांच कराई जाएगी। गुना नपा में संबल योजना में ढाई करोड़ से ऊपर घोटाले के सवाल पर श्रम मंत्री ने कहा कि इसकी जांच कलेक्टर से कराई जाएगी और घोटालेबाजों को किसी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि इस बात की भी जांच कराई जाएगी कि संबंल योजना का पैया वास्तविक श्रमिकों को दिया गया है या नहीं और उसे किसा अन्य मद में खर्च कर दिया गया है। इसके बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी। साथ ही अब संबल योजना का नाम नया सवेरा होगा। जल्द ही आयुष्मान नाम से एक बड़ी योजना सरकार लाने जा रही है। प्रदेश की विधानसभा में वास्तुदोष होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि विधानसभा के पूर्व नेताओं की मृत्यु का हादसा दुखद है, मैं खुद सतर्क ओर सचेत रहता हूं। एक सवाल पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस के वचन पत्र को पूरा करने की जिम्मेदारी हम लोगो की है।

गौरतलब है कि प्रदेश में लगातार बीजेपी नेताओं की ओर से बयानबाजी की जा रही कि जब इशारा होगा सरकार गिरा देंगे। इस पर कांग्रेस ने भी अब सख्त रवैया अपना लिया है। कांग्रेस नेता और सांसद दिग्विजय सिंह ने कहा कि बीजेपी सरकार गिराने के सपने देख रही है। ये ऐसा ही है जैसे मुंगेरीलील के सपने। बीजेपी नेता खिसिया गए हैं। इसिलए उल्टे सीधे बयान दे रहे हैं।