Corona संक्रमण में मध्यप्रदेश देश में तीसरे नंबर पर, नीति आयोग के सदस्य ने दी चेतावनी

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना (Corona) के बढ़ते मामलों के बीच नीति आयोग के सदस्य के बयान ने हलचल बढ़ा दी है। नीति आयोग के सदस्य और चिकित्सक डॉ.वीके पाल ने कहा है कि कोरोना की स्थिति बद से बदतर होती जा रही है, जो चिंताजनक है। उन्होने कहा कि अगर हमने अब भी ऐहतियात नहीं बरती तो स्थिति बेहद चिंताजनक हो सकती है। वहीं आंकड़ों की बात करें तो कोरोना (Corona) पॉजिटिविटि की साप्ताहिक दर में मध्यप्रदेश देश में तीसरे स्थान पर है, जो हमारे लिए एक अलार्मिंग स्थिति है।

ये भी देखिये – कोरोना पर सीएम शिवराज की समीक्षा बैठक, बोले – जरूरी हुआ तो करेंगे उपाय

कोरोना (Corona) पर स्वास्थ्य मंत्रालय की प्रेस कॉन्फ्रेंस में डॉ.वीके पाल ने लोगो को आने वाले खतरे से सावधान किया है। उन्होने कहा कि आने वाले दिनों में हमें और अधिक सतर्क रहने की जरूरत है। डॉक्टर पाल ने साफ कहा कि अभी कुछ राज्यों में कोरोना को लेकर स्थिति बिगड़ी है, लेकिन यदि समय रहते संभला नहीं गया तो ये एक बार फिर पूरे देश में फैल सकता है। वहीं स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि जिन 10 जिलों में कोरोना के सर्वाधिक मामले सामने आ रहे हैं उनमें से 8 जिले महाराष्ट्र से हैं। इससे हमें पता चलता है कि वहां स्थिति कितनी भयावह है।

पिछले हफ्ते कोरोना पॉजिटिविटि की साप्ताहिक राष्ट्रीय दर का औसत 5.6 प्रतिशत रहा। लेकिन कुछ राज्यों में ये दर अधिक रही है। महाराष्ट्र में सबसे अधिक 23 प्रतिशत, पंजाब में 8.82 प्रतिशत और इस लिस्ट में मध्यप्रदेश 7.82 प्रतिशत दर के साथ तीसरे नंबर पर है। मध्यप्रदेश में लगातार कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। फिलहाल यहां  16,034 एक्टिव केस हैं जिसमें 4,112 के आंकड़े के साथ भोपाल टॉप पर है, वहीं 3,545 केस इंदौर में हैं।

ये भी देखिये – पूर्व मुख्यमंत्री हुए कोरोना संक्रमित, बेटे ने ट्वीट कर दी जानकारी, 24 घंटे में मिले 56 हज़ार पॉजिटिव