MP Board: स्कूल शिक्षा विभाग का बड़ा फैसला, 10वीं-12वीं की प्री बोर्ड परीक्षाओं के लिए 2 ऑप्शन

स्कूल शिक्षा विभाग

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के स्कूल शिक्षा विभाग (School Education Department) ने कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते संक्रमण के चलते छात्रों को लेकर बड़ा फैसला लिया है। विभाग ने 9वीं से 11वीं की वार्षिक परीक्षाएं और 10वीं एवं 12वीं की प्री-बोर्ड परीक्षाओं (Pre Board Exam 2021) को दो विकल्प में कराने का फैसला लिया है। आपको बता दे कि एमपी बोर्ड द्वारा 10वीं और 12वीं प्री-बोर्ड परीक्षाएं 12 अप्रैल 2021 को होना है।

यह भी पढ़े.. Transfer: मध्य प्रदेश में पुलिसकर्मियों के तबादले, यहां देखें लिस्ट

इस संबंध में मध्य प्रदेश शासन स्कूल शिक्षा विभाग के उप सचिव प्रमोद सिंह ने मंगलवार देर शाम आदेश जारी कर दिए।स्कूल शिक्षा विभाग के जारी आदेश के तहत पहला विकल्प यह रखा स्कूल शिक्षा विभाग गया है कि परीक्षा का आयोजन ऑनलाइन (Online Exam 2021) किया जाएगा और दूसरा विकल्प यह है कि छात्रों (Student) को स्कूलों से प्रश्न पत्र दिए जाएंगे ताकी वे इसे घर से छात्र हल करके आंसर शीट समय सीमा में स्कूल  में वापस जमा कराएंगे।

यह भी पढ़े.. Cabinet Meeting : शिवराज कैबिनेट बैठक संपन्न, मंत्रियों को मिलेंगे जिलों में निरीक्षण के दायित्व

इसमें सरकारी स्कूलों (Government School) के पास केवल दूसरा ऑप्शन होगा वही निजी स्कूल (Private School) विकल्प 1 या 2 में से किसी एक के अनुसार परीक्षाएं ऑनलाइन या घर से पेपर हल करा सकेंगे।इसके अलावा स्कूल शिक्षा विभाग के जारी आदेश में कहा गया है कि कक्षा 10वीं और 12वीं की प्रायोगिक परीक्षाएं एवं वार्षिक परीक्षा से संबंधित बोर्ड, माध्यमिक शिक्षा मंडल (MP Board) , सीबीएसई(CBSE) और आईसीएसई (ICSE) आदि के निर्देशों के अनुसार आयोजित की जाएगी।

स्कूल शिक्षा मंत्री इन्दर सिंह परमार के निर्देश पर कोरोना वायरस संकमण के दृष्टिगत परीक्षाओं के आयोजन के संबंध में स्कूल शिक्षा विभाग ने आदेश जारी किए हैं। परीक्षाओं के आयोजन के संबंध में सभी जिलों के कलेक्टर, जिला शिक्षा अधिकारी और सहायक आयुक्त जनजाति कार्य विभाग को जिम्मेदारी सौंपी गई है।

 

स्कूल शिक्षा विभाग