MP Board : राज्य शिक्षा केंद्र ने तैयार की रूपरेखा, अप्रैल में आयोजित हो सकती है बोर्ड परीक्षा, जाने नई अपडेट

इस साल Corona के मामले को देखते हुए राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा प्लान B भी तैयार किया गया है।

mp board MPBSE

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) स्कूल शिक्षा विभाग (School Education Department) की तरफ से बड़ी खबर निकल के सामने आ रही है। दरअसल विभाग (MP Board) द्वारा 13 साल के बाद एक बार फिर से 5वी और 8वीं की बोर्ड परीक्षा आयोजित की जाएगी। इस मामले में दरअसल चर्चा थी कि Corona के तीसरे लहर की संभावना को देखते हुए इस साल MP Board पांचवी और आठवीं की परीक्षा आयोजित नहीं की जाएगी। हालांकि स्कूल शिक्षा मंत्री Inder Singh Parmar ने इन सभी चर्चाओं को खारिज करते हुए कहा था कि इस साल मध्यप्रदेश में पांचवी आठवीं की बोर्ड परीक्षा आयोजित की जाएगी। अब माना जा रहा है कि राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा इसकी रूपरेखा तैयार कर ली गई है।

दरअसल परीक्षा अप्रैल 2022 में होने की संभावना है। राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा इसकी तैयारी पूरी की जा रही है। बता दे की 5वी और 8वीं में बोर्ड की तर्ज पर ही वार्षिक परीक्षा आयोजित होनी थी लेकिन 2019 में कोरोना की वजह से कुछ विषयों की परीक्षा के बाद परीक्षा रद्द कर दी गई और छात्रों को जनरल प्रमोशन दे दिया गया था।

वहीं 2020 में पहली से 8वीं तक की कक्षाओं के विद्यार्थियों को घर पर आंसर शीट भेजकर वार्षिक मूल्यांकन किया गया था। ऐसी स्थिति में इस साल Corona के मामले को देखते हुए राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा प्लान B भी तैयार किया गया है। वही 2021-22 सत्र में 5वी और 8वीं की बोर्ड परीक्षा अप्रैल 2022 में लेने की संभावना जताई गई है।

Read More : UGC NET Exam 2021: यूजीसी-नेट की परीक्षा स्थगित, नई परीक्षा तिथि जल्द होगी जारी

हालांकि यदि किसी वजह से परीक्षा आयोजित नहीं हो पाती है तो बच्चों को घर-घर Worksheet भेजकर होम बेस्ड परीक्षा का आयोजन किया जाएगा। वहीं परीक्षा के सिलेबस में बड़ी कटौती की गई है। साथ ही 40 फीसद प्रोजेक्ट आधारित मूल्यांकन के साथ-साथ 60% अधिक सैद्धांतिक प्रश्नों पर परीक्षा आयोजित की जाएगी।

ज्ञात हो कि मध्यप्रदेश में MP Board 5वी और 8वीं के विद्यार्थियों की बोर्ड परीक्षा 2007-08  बंद कर दी गई थी। RTE लागू होने के बाद पहली से आठवीं तक के छात्रों की परीक्षा वार्षिक मूल्यांकन के आधार पर होने लगी। RTE नियम के तहत किसी भी छात्रों को फेल नहीं किया जा सकता था। हालांकि 2019 में आरटीई में संशोधन के बाद MP Board 5वी और 8वीं के विद्यार्थियों की परीक्षा बोर्ड पैटर्न पर आयोजित करने की तैयारी की गई थी। वही ऐसे परीक्षा में फेल होने वाले विद्यार्थियों को आगे की कक्षा में प्रमोशन नहीं दिया जाएगा।