MP Corona Update: 7 दिन में 82 नए मामले, इन जिलों ने बढ़े केस, सीएम बोले-चिंता का विषय

इसके तहत 70 हजार प्रतिदिन जांच में 50 हजार जांच आरटीपीसीआर और 20 हजार रैपिट किट से करने के निर्देश दिए है।

MP CORONA

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।  मध्य प्रदेश (MP Corona Update) में कोरोना के दिनों दिन बढते आंकड़ों पर शिवराज सरकार अलर्ट हो गई है।मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल-इंदौर के बाद जबलपुर -उमरिया के आंकड़ों पर चिंता जताई है और कहा कि तीसरी लहर का खतरा अभी टला नहीं है। पड़ोसी राज्य महाराष्ट्र और केरल में लगातार केस बढ़ रहे हैं, किसी से स्थिति छिपी नहीं है। मप्र में भी पिछले दो सप्ताह में केस बढ़ते जा रहे है, ऐसे में हमें सतर्क रहने की जरूरत है। त्यौहार आने वाले है, ऐसे कार्यक्रम करें कि संक्रमण ना फैले।

यह भी पढ़े.. PMAY: मप्र के हितग्राहियों के खाते में सीधे भेजी जाएगी राशि, मंत्री ने दिए निर्देश

दरअसल, सोमवार को 12 नए केस सामने आए है। इसमें इंदौर में 6, भोपाल में 2, दतिया, ग्वालियर, कटनी, नरसिंहपुर में 1-1 पॉजिटिव आए हैं और कोरोना के 61,697 टेस्ट हुए हैं। वही आज मंगलवार कोरोना के सिर्फ 7 नए केस आए हैं, जबकि 18 लोग स्वस्थ हुए हैं। प्रदेश में कुल एक्टिव केस 140 और रिकवरी रेट 98.60% है। प्रदेश में कल कोरोना के 63,422 टेस्ट हुए। इसके साथ ही प्रदेश में 7 दिनों 17 जिलों में 82 कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं। इसमें सबसे जयादा जबलपुर में 37 मरीज हैं।जिसके बाद एक्टिव केसों की संख्या 140 हो गई है।

इन आंकड़ों पर चिंता जताते हुए  सीएम शिवराज सिंह चौहान(CM Shivraj Singh Chouhan) ने कहा कि गत 17 माह में हमने कोरोना की दो लहरों का सामना कर तकलीफ उठाई है, कई अपने हमें छोड़कर चले गये। खतरा अभी टला नहीं है। जबलपुर में सामने आये पॉजिटिव प्रकरण चिंता का विषय हैं। हमें निश्चितं नहीं होना है। अपनी जागरूकता से तीसरी लहर को रोकना है।कई पर्व- त्यौहार भी आने वाले हैं। त्यौहारों पर हम इस तरह कार्यक्रम करें कि संक्रमण न फैले। हम सभी अनिवार्य रूप से मास्क लगाएँ।राहत भरी खबर ये है कि रिकवरी रेट 98.60% हैं और 5 करोड़ से ज्यादा का वैक्सीनेशन हो चुका है।

यह भी पढ़े.. MP में लापरवाही पर एक्शन- पटवारी समेत 4 कर्मचारी निलंबित, 3 को थमाया नोटिस

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि  प्रत्येक जिले में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए आवश्यक एहतियाती कदम उठाए जाएँ, जिला स्तरीय, विकास खण्ड स्तरीय, ग्राम स्तरीय और वार्ड स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्य जन-जागरूकता बढ़ाने की योजना पर मिलकर कार्य करें।इससे पहले गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Narottam Mishra ) ने कहा था कि कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण रखने की सरकार पूरी कोशिश कर रही है।

इसके अलावा संक्रमित मिलने वाले जिलों को लेकर कोरोना जांच के लिए नए लक्ष्य निर्धारित किए गए है। इसके तहत 70 हजार प्रतिदिन जांच में 50 हजार जांच आरटीपीसीआर और 20 हजार रैपिट किट से करने के निर्देश दिए है। इसमें जिलाें के अनुसार लक्ष्य तय कर लैबों से मैपिंग की भी जानकारी दी गई है। यह आदेश स्वास्थ्य आयुक्त की तरफ से जारी किए गए है।

यह भी पढ़े.. Hindi Diwas 2021: 14 सितंबर को क्यों मनाया जाता है हिंदी दिवस, भाषा के बारे में जाने कुछ रोचक तथ्य