MP में कोरोना ब्लास्ट, आज 42 नए पॉजिटिव, एक्टिव केस 230 पार, CM ने दिए ये निर्देश

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना के केस बढ़ने से रोकने के लिए सभी व्यवस्थाएँ चाक-चौबंद रखी जाएँ। तीसरी लहर का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है।

mp corona

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP Corona Update) में लाख सख्ती और नाइट कर्फ्यू के बावजूद कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। आज शनिवार 25 दिसंबर 2021 को 42  नए कोरोना पॉजिटिव सामने आए है, जिसके बाद एक्टिव केस 230 (MP Corona Active Case) के पार हो गई। राहत की बात ये है कि 18 मरीज स्वस्थ होकर घर लौटे है। संक्रमण दर 0.5 फीसदी और रिकवरी रेट 98 प्रतिशत से ज्यादा बना हुआ है।वही रोजाना 50 हजार से ज्यादा जांचे की जा रही है।

यह भी पढ़े.. Government Jobs 2021: 10वीं पास के लिए 600 से ज्यादा पदों पर भर्ती, जनवरी में परीक्षा, इतनी मिलेगी सैलरी

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो आज शनिवार 42 नए केसों में इंदौर में 22, भोपाल में 12, उज्जैन में 5, जबलपुर, खंडवा और खरगोन में 1-1 संक्रमित आए हैं।इसके बाद प्रदेश में एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर 233 पहुंच गई है। वही भोपाल में 68 तो इंदौर में 111 एक्टिव केस हैं।दिसंबर के आंकड़ों की बात करें तो प्रदेश में 24 दिनों में 470 संक्रमित मिले हैं। इनमें सबसे ज्यादा इंदौर 187 और भोपाल में 176 मरीज शामिल हैं।प्रदेश में अबतक 7 लाख 93 हजार 648 कोरोना संक्रमित और 7 लाख 82 हजार 883 लोग ठीक हो चुके है। वहीं कोरोना के कारण 10 हजार 532 की मौत हो चुकी है।

सीएम शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना के केस बढ़ने से रोकने के लिए सभी व्यवस्थाएँ चाक-चौबंद रखी जाएँ। तीसरी लहर का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है। प्रदेश में भी पॉजीटिव केस 200 से ज्यादा हो गए हैं। कोरोना के केस पहले इंदौर और भोपाल में ही आ रहे थे, अब धीरे-धीरे अन्य जिलों में भी केस आते जा रहे हैं। वर्तमान में 34 जिलों में एक्टिव केस नहीं है। आसपास के राज्य महाराष्ट्र और गुजरात में केसेस आ रहे हैं। पुराना अनुभव हमारे सामने है। लगभग सभी राज्यों में कोरोना के प्रकरण आ रहे हैं।

यह भी पढ़े.. MP के यात्रियों के लिए काम की खबर, भोपाल से होकर जाने वाली 9 ट्रेनें डायवर्ट, कई निरस्त

सीएम शिवराज ने निर्देश दिए है कि कोरोना टेस्ट का लक्ष्य बढ़ायें। अमेरिका, इंग्लैंड में बहुत ज्यादा केस आ रहे हैं। यह मानकर चले कि ओमिक्रान हमारे यहाँ आ गया है। प्रदेश में वैक्सीन की दोनों डोज लगवा चुके नागरिक ही जिम, सिनेमा हॉल एवं अन्य स्थानों पर जा सकेंगे। आर्थिक गतिविधियों पर प्रतिकूल प्रभाव न पड़े, यह भी सुनिश्चित किया जाए। कोविड केयर सेंटर को फिर से चिन्हित करें। मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना में 31 मार्च तक अनुबंध बढ़ाया गया है। पीएसए संयंत्र के लिए तकनीशियन की व्यवस्था रखें। सभी जिलों में प्लानिंग रिपोर्ट बना लें। मैपिंग कर प्रायवेट और शासकीय अस्पतालों में बिस्तरों की व्यवस्था को देखें।