MP Economic Survey Report: सरकार ने कहा- बेरोजगारों की संख्या 25 लाख, GDP में गिरावट दर्ज

2020-21 के बजट के अनुसार राज्य से कुल प्राप्त रकम 1,36,596.36 करोड़ रुपए रहना अनुमानित किया गया है।

MP Economic Survey Report

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में आज आने वाले बजट 2021-22 (Budget 2021-22) के लिए कल विधानसभा में प्रदेश का आर्थिक सर्वेक्षण (Economic survey) प्रस्तुत किया गया। जिसमें यह कहा जा सकता है कि कोरोना वायरस (corona virus) के कहर ने प्रदेश को काफी आर्थिक क्षति पहुंचाई है वही प्रदेश की प्रति व्यक्ति सालाना (Per capita income) में 4.71% की कमी आई है। वहीं अगर मध्य प्रदेश की जीडीपी (GDP) की बात करें तो पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में इस वर्ष जीडीपी में 3.37% की गिरावट दर्ज की गई है। 2020-21 के बजट के अनुसार राज्य से कुल प्राप्त रकम 1,36,596.36 करोड़ रुपए रहना अनुमानित किया गया है।

प्रदेश के बेरोजगारों की संख्या बढ़कर 24 लाख 72 हजार

प्रदेश में अगर बेरोजगारी (unemployment) की बात है तो 2020-2021 की स्थिति में प्रदेश के बेरोजगारों की संख्या बढ़कर 24 लाख 72 हजार हो गई है। खनिज से सरकार की आय में करीब 27.4% की कमी देखी गई है। प्रदेश के शुद्ध प्रति व्यक्ति आय 1 लाख 03 हजार 288 से घटकर 2020-21 में 98 हजार 498 पहुंच गई है। वहीं प्रदेश के विकास दर में 2019-20 की तुलना में 2020-21 वर्ष 3.37 फीसद की कमी का अनुमान लगाया है।

औद्योगिक विकास दर में भी लगभग 3.89 फीसद की कमी

आर्थिक सर्वेक्षण रिपोर्ट के मुताबिक बैंक शाखा में जमा अनुपात में प्रथम छमाही में 4.48% की कमी रिकॉर्ड की गई है। इसके अलावा औद्योगिक विकास दर में भी लगभग 3.89 फीसद की कमी बताई गई है। प्रदेश में रजिस्टर्ड उद्योगों की संख्या की बात करें तो 2018-19 में प्रदेश में रजिस्टर उद्योगों की संख्या 2.98 थी जो 2019-20 से घटकर 2.88 लाख रह गई है।

Read More: MP Budget 2021: मध्यप्रदेश का बजट आज, इन मुद्दों पर रहेगा फोकस

वही प्राकृतिक आपदाओं से नष्ट फसल के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए 2020-21 में 800 करोड़ का प्रावधान किया गया था। जिसमें से 620.83 करोड़ ही सरकार द्वारा वितरित किए गए हैं जबकि 180 करोड़ का अब तक नहीं हुआ बांटे गए हैं।

राजस्व में वृद्धि रिकॉर्ड

हालांकि बिजली से मिलने वाले राजस्व में 14.86% की वृद्धि देखी गई है। वही फसल क्षेत्र में भी रिकॉर्ड वृद्धि दर्ज की गई है। प्रदेश में रोजगार युवाओं की बात करें तो इस वर्ष कुल 3605 युवकों को रोजगार दिलाया गया है। अंडा उत्पादन में 11, मांस में 9 और दुध उत्पादन में 8प्रतिशत की वृद्धि रिकॉर्ड की गई है। इसके अलावा प्रदेश में 2019-20 की तुलना में 2020-21 में 50 लाख टन अधिक गेहूं खरीदी की गई है। वहीं पिछले साल से 11, 246 करोड़ रुपए अधिक धन का उपार्जन भी 38 लाख टन हुआ है।