MP में हो सकता है 2 दिन का लॉकडाउन, जिला आपदा प्रबंधन समूह लेगा अंतिम फैसला

सीएम शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। MP में तेजी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमण (Coronavirus) ने शिवराज सरकार की चिंता बढ़ा दी है। पिछले 24 घंटे में 3722 नए केस सामने आए है और 18 लोगों की मौत हो गई, ऐसे में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने MP में शनिवार-रविवार को टोटल लॉकडाउन (Lockdown 2021) के संकेत दिए है। सीएम शिवराज  ने कहा कि लॉकडाउन सीमित अवधि का ही रखा जायेगा। जिला स्तर पर यदि रविवार के साथ शनिवार का लॉकडाउन रखने की आवश्यकता हो, तो इस संबंध में आपदा प्रबंधन समूह जिला स्तर पर निर्णय ले सकता है।

यह भी पढ़े.. MP में कोरोना की रफ्तार तेज, CM शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ से मांगा सहयोग

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना वॉलेंटियर्स को जिला प्रशासन द्वारा परिचय- पत्र जारी किये जायेंगे। कोरोना संक्रमण को रोकने में स्व-प्रेरणा से बने कोरोना स्वयं-सेवकों की महत्वपूर्ण भूमिका है। उन्हें रोको टोको अभियान तथा अन्य गतिविधियों में इस परिचय-पत्र से मदद मिलेगी। ग्रामीण क्षेत्र में MP के बाहर से आ रहे व्यक्तियों के स्वास्थ्य परीक्षण और आवश्यकता होने पर उन्हें आईसोलेशन में रखने की व्यवस्था की जाये।

दरअसल, आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने’स्वास्थ्य आग्रह’ कार्यक्रम में वीडियो कॉफ्रेंस द्वारा MP विभिन्न जिलों के नागरिकों और समाज-सेवियों से चर्चा की।इस दौरान खजुराहो सांसद वीडी शर्मा और गायत्री परिवार के सदस्यों ने भी अपने सुझाव रखे। इस वार्तालाप में कोरोना संक्रमण की रोकथाम में लिए कई महत्वपूर्ण और उपयोगी सुझाव प्राप्त हुए।

यह भी पढ़े.. Transfer: मध्य प्रदेश में पुलिसकर्मियों के तबादले, यहां देखें लिस्ट

विदिशा के उद्यमी मित्तल ने कहा कि शासकीय शालाओं में विद्यार्थियों को शाला विकास निधि से मास्क उपलब्ध कराये जायें। विदिशा के सामाजिक कार्यकर्ता श्री श्रवण व्यास ने कहा कि बैंकों में भीड़ बढ़ रही है। अत: संक्रमण नियंत्रण के लिए आवश्यक व्यवस्था के निर्देश दिये जाने चाहिए। कुंभ से गाँवों में लौट रहे लोगों से संक्रमण फैलने की संभावना और उसके नियंत्रण के लिए आवश्यक उपाय करने का सुझाव भी रखा गया।

स्वामी विवेकानन्द विश्वविद्यालय, सागर के कुलपति डॉ. अरविंद तिवारी ने कहा कि कोरोना से प्रभावित व्यक्तियों के लिए घर में ही ऑक्सीजन व्यवस्था और डॉक्टर की सलाह के अनुसार मेडिकल किट उपलब्ध कराकर होम आइसोलेशन व्यवस्था को और सुदृढ़ किया जा सकता है।मेडिकल दुकानों पर भी डॉक्टर की गाइड लाईन के अनुसार मेडिकल किट की सरल उपलब्धता सुनिश्चित की जाना चाहिए।

छतरपुर के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. सुभाष चौबे ने जानकारी दी कि छतरपुर के समस्त चिकित्सकों ने एक मत से यह निर्णय लिया है कि कोविड काल में कोई भी चिकित्सक अपना क्लीनिक बंद नहीं करेगा। छतरपुर के प्रदीप सिंह ने भी अपने सुझाव रखे।होशंगाबाद के अनिल अग्रवाल ने कहा कि कोरोना जागरूकता पर छोटी-छोटी आडियो-वीडियो फिल्म बनाकर उनका व्यापक प्रदर्शन किया जाना चाहिए।