मप्र पंचायत चुनाव: अधिकारियों को सौंपे दायित्व, 22 को प्रशिक्षण, OBC नामांकनों को लेकर ये निर्देश जारी

इसके अलावा OBC वर्ग से प्राप्त नामांकन अभिरक्षा में सुरक्षित रखने के निर्देश दिए गए है कि पंचायतों के सूचना पटल पर सूचना चस्पा की जाए और प्राप्त नाम निर्देशन पत्रों की प्रविष्टि न करें।

पंचायत चुनावों

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद गर्माई सियासत के बीच मध्य प्रदेश में पंचायत चुनाव (Madhya Pradesh election 2021-22) की जिले स्तर पर तैयारियां जोरों पर है।अभी तक प्रदेश में 23222 अभ्यर्थियों ने नाम निर्देशन-पत्र प्रस्तुत किया है।वही जिलेवार अधिकारियों को दायत्वि सौंपे गए है और रेण्डमाइजेशन 21 तो 22 को प्रशिक्षण होगा। इसके अलावा OBC वर्ग से प्राप्त नामांकन अभिरक्षा में सुरक्षित रखने के निर्देश दिए गए है कि पंचायतों के सूचना पटल पर सूचना चस्पा की जाए और प्राप्त नाम निर्देशन पत्रों की प्रविष्टि न करें। इधर, पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मांग की है कि पंचायत चुनाव OBC आरक्षण और रोटेशन प्रक्रिया के साथ हो।

यह भी पढ़े.. MP News: लापरवाही पर पटवारी निलंबित, 32 कर्मचारियों को शोकॉज नोटिस, वेतनवृद्धि रोकी!

छतरपुर में राज्य निर्वाचन आयोग ने सर्वोच्च न्यायालय द्वारा पंचायत चुनाव 2021-22 के OBC के लिए आरक्षित पंच, सरपंच, जनपद एवं जिला पंचायत सदस्य के पदों की निर्वाचन प्रक्रिया स्थगित किये जाने के दिए गये। उप जिला निर्वाचन अधिकारी छतरपुर ने बताया कि प्रसारित निर्देश पर रिटर्निंग एवं सहायक रिटर्निंग अधिकारियों को प्रथम एवं द्वितीय चरण के लिए अन्य पिछड़ा वर्ग के पंच, सरपंच, जनपद एवं जिला पंचायत सदस्यों के पद के लिए 17 दिसम्बर तक प्राप्त नाम निर्देशन पत्रों एवं अभिलेखों को सील बंद कराते हुए अभिरक्षा में सुरक्षित रखने के निर्देश दिए गए हैं। प्रसारित निर्देश पर अमल करने के लिए रिटर्निंग एवं सहायक रिटर्निंग अधिकारियों को प्रेषित पत्र में निर्देशानुसार कार्यवाही करने पर जोर दिया गया है। जिसके तहत विकासखण्ड एवं ग्राम पंचायतों के सूचना पटल पर सूचना चस्पा की जाए और अब तक प्राप्त नाम निर्देशन पत्रों की प्रविष्टि IEMS में न करें।

यह भी पढ़े.. मप्र के BJP के अल्पसंख्यक मोर्चा के जिलाध्यक्षों की घोषणा, यहां देखें लिस्ट

बुरहानपुर कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी प्रवीण सिंह ने आयुक्त नगर निगम पालिक निगम को प्रशिक्षण स्थल पर साफ-सफाई, पेयजल हेतु कर्मचारियों की ड्यूटी तथा प्रशिक्षण स्थल को प्रतिदिन सेनेटाईज करवाने के निर्देश दिये है। वहीं जिला खाद्य आपूर्ति अधिकारी को प्रशिक्षण स्थल पर भोजन एवं चाय और कॉफी की व्यवस्था, वन विभाग को प्रशिक्षण सामग्री, EVM मशीनों के परिवहन हेतु वाहन की व्यवस्था, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व बुरहानपुर को पटवारियों, कोटवारों की ड्यूटी लगवाने, सीएमएचओ को प्रशिक्षण स्थल पर थर्मल स्केनिंग डिवाईस, पैडल सेनेटाईजर उपलब्ध कराने तथा अन्य अधिकारियों को कार्य दायित्व सौपे है।

नोडल एवं सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त

उमरिया कलेक्टर (Umaria Collector) एवं जिला निर्वाचन अधिकारी संजीव श्रीवास्तव ने पंचायत चुनाव 2021- 22 मे वित्त संबंधी समस्त कार्य के लिए वित्त सेल के गठन के लिए अधिकारी, कर्मचारी को नोडल एवं सहायक नोडल अधिकारी बनाया गया है, जिसमें तोकानंद टेकाम जिला कोषालय अधिकारी को नोडल अधिकारी , प्रकाश शिवहरे लेखाधिकारी पीडब्ल्यू , संतोष शुक्ला लेखापाल मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तथा कौशल प्रसाद साकेत सहायक वर्ग – 2 कार्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को सहायक नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। यह सेल स्थानीय निर्वाचन शाखा के अधीन कार्य करेगा। यह सुनिश्चित करेगा कि जो भी भुगतान इस वर्ष मे होना तथा आवंटन उपलब्ध है , का तत्काल भुगतान करायेंगे। यह आदेश तत्काल प्रभावशील हो गया है।

अब तक 23222 उम्मीदवारों ने भरा नामांकन

पंचायत निर्वाचन 2021-22 में प्रथम और द्वितीय चरण के लिये 18 दिसम्बर को 3987 अभ्यर्थियों ने नाम निर्देशन-पत्र जमा किए। इनमें 2085 पुरूष और 1902 महिला अभ्यर्थी के नाम निर्देशन-पत्र हैं। अभी तक कुल 23 हजार 222 अभ्यर्थियों ने नाम निर्देशन-पत्र प्रस्तुत किया है, जिनमें से 12 हजार 226 पुरुष और 10 हजार 984 महिला तथा 2 अन्य अभ्यर्थी शामिल हैं। सचिव राज्य निर्वाचन आयोग(state election commission) बीएस जामोद ने बताया है कि शाम 6 बजे तक प्राप्त जानकारी के अनुसार 18 दिसम्बर को जिला पंचायत सदस्य के लिये 283, जनपद पंचायत सदस्य के लिये 393, सरपंच पद के लिये 2093 और पंच पद के लिये 1218 अभ्यर्थियों ने नाम निर्देशन-पत्र जमा किया है।

अभी तक जिला पंचायत सदस्य के लिए 629, जनपद पंचायत सदस्य के लिए 1888, सरपंच पद के लिये 14069 और पंच पद के लिये 5418 अभ्यर्थियों ने नाम निर्देशन-पत्र प्रस्तुत किया है।प्रथम और द्वितीय चरण के लिये नाम निर्देशन-पत्र 20 दिसम्बर तक भरे जायेंगे। नाम निर्देशन-पत्रों की संवीक्षा 21 दिसम्बर को होगी। अभ्यर्थिता से नाम वापस लेने की अंतिम तारीख और निर्वाचन प्रतीकों का आवंटन 23 दिसम्बर को होगा। प्रथम चरण का मतदान 6 जनवरी और द्वितीय चरण का मतदान 28 जनवरी 2022 को सुबह 7 बजे से अपरान्ह 3 बजे तक होगा।

21 दिसंबर को रेण्डमाईजेशन

  • सीधी उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि पंचायत चुनाव 2021-22 को लेकर प्रथम चरण के लिए EVM मशीनों का रेण्डमाईजेशन मंगलवार 21 दिसंबर 2021 को प्रातः 11 बजे NIC कक्ष सीधी में किया जाना हैं। सभी संबंधितों को सूचित किया है कि EVM रेण्डमाईजेशन हेतु नियत तिथि व समय पर उपस्थित रहना सुनिश्चित करें।
  • जबलपुर में EVM की FLC रेण्डमाइजेशन मंगलवार 21 दिसम्बर को दोपहर 2 बजे कलेक्ट्रेट कार्यालय के राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र के कक्ष क्रमांक 83 में किया जायेगा। EVM के प्रथम रेण्डमाइजेशन के दौरान मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों व पदाधिकारियों से उपस्थित रहने का आग्रह किया गया है।
  • कटनी जिले में प्रथम चरण में जनपद पंचायत बहोरीबंद एवं रीठी के त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन अंतर्गत जनपद एवं जिला पंचायतों के सदस्यों के निर्वाचन होगा। निर्वाचन प्रक्रिया के लिये प्रथम रेण्डमाईजेशन की कार्यवाही 21 दिसम्बर 2021 को होगी। रेण्डमाईजेशन की प्रक्रिया अपरान्ह 3 बजे से कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित की जायेगी। जिला निर्वाचन अधिकारी प्रियंक मिश्रा ने जिले के मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों से रैण्डमाईजेशन प्रक्रिया के दौरान उपस्थित रहने का आग्रह किया है।

22 और 24 दिसंबर को प्रशिक्षण

  1. पंचायत चुनाव के लिए बुरहानपुर में नियुक्त पीठासीन अधिकारी एवं मतदान अधिकारी क्रमांक-1 का प्रथम प्रशिक्षण 22 से 24 दिसम्बर 2021 तक दो सत्रो में आयोजित किया जा रहा हैं। यह प्रशिक्षण केन्द्रीय विद्यालय बुरहानपुर में प्रथम सत्र प्रातः 9.30 बजे से 1.00 बजे तक एवं द्वितीय सत्र दोपहर 2.00 बजे से शाम 5.30 बजे तक आयोजित रहेगा।
  2. पंचायत चुनाव की जबलपुर जिले में चल रही तैयारियों के तहत EVM कमिशनिंग के लिए विकासखण्ड वार नियुक्त मास्टर ट्रेनर्स एवं सेक्टर अधिकारियों का प्रशिक्षण 22 दिसम्बर को सुबह 11 बजे से मानस भवन में आयोजित किया गया है। ज्ञात हो कि पंचायत चुनाव में जनपद पंचायत और जिला पंचायत सदस्यों के चुनाव के लिए मतदान ईव्हीएम मशीनों के माध्यम से कराया जायेगा।