MP Politics: विस की 5 समितियां गठित, बृजेंद्र सिंह राठौर, अजय विश्नोई को मिली बड़ी जिम्मेदारी

विधानसभा के प्रमुख सचिव एपी सिंह (AP Singh) द्वारा कहा गया कि अभी तक प्रजापति का इस्तीफा सचिवालय नहीं पहुंचा है।

मप्र विधानसभा

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में एक बार फिर से डैमेज कंट्रोल (damage control) की कोशिश की गई है। दरअसल विधानसभा (mp assembly) में बीते दिनों 5 समितियों का गठन किया गया। जिसमें से एक-एक समिति की कमान बीजेपी विधायक अजय विश्नोई (ajay vishnoi) और गौरीशंकर बिसेन (Gaurishankar Bisen) को दी गई।

बता दें कि गौरीशंकर बिसेन को सरकारी उपक्रमों संबंधी समिति (Committee on Government Undertakings) का सभापति बनाया गया है। वही अजय विश्नोई को स्थानीय निकाय और पंचायत राज्य लेखा समिति का सभापति नियुक्त किया गया है। इसके साथ ही लोक लेखा समिति का भी गठन किया गया। जिसमें कांग्रेस के विधायक और पूर्व मंत्री बृजेंद्र सिंह राठौर (Brijendra Singh Rathore) को सभापति बनाया गया।

हालांकि बृजेंद्र सिंह राठौर के सभापति बनाए जाने पर पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति (NP Prajapati) सदन में नाराज बताए गए। चर्चा यह भी है कि उन्होंने समिति सदस्य बनने से इनकार करते हुए इस्तीफा दिया है। हालांकि अभी इस बात की पुष्टि नहीं हुई है। इससे पहले भी एनपी प्रजापति ने बजट बैठक में इस्तीफा देने की बात कही थी। हालांकि बाद में विधानसभा के प्रमुख सचिव एपी सिंह (AP Singh) द्वारा कहा गया कि अभी तक प्रजापति का इस्तीफा सचिवालय नहीं पहुंचा है।

Read More: Bhind News: रेत को लेकर फिर रक्त रंजित चंबल, व्यापारी की गोली मारकर हत्या

लोक लेखा समिति- वही लोक लेखा समिति की बात करे तो इसमें सभापति बृजेंद्र सिंह राठौर के अलावा दिनेश राय मुनमुन, देवेंद्र वर्मा, नर्मदा प्रसाद प्रजापति, पीसी शर्मा, प्रदीप लारिया, प्रवीण पाठक, बालाराम बच्चन, रमेश मेंदोला, राजेंद्र शुक्ला और शैलेंद्र जैन को सदस्य बनाया गया है

सरकारी उपक्रम संबंधी समिति- वही सरकारी उपक्रम संबंधी समिति में सभापति गौरीशंकर बिसेन के अलावा अशोक ईश्वरदास रोहाणी, कुंवरजी कोठार, कुमार सिंह टेकाम, कुणाल चौधरी, जसपाल सिंह जज्जी, पांचीलाल मेड़ा, रामलाल मालवीय, विजय पाल सिंह, संजय शर्मा और संजय यादव को सदस्य नियुक्त किया गया है

अनुसूचित जाति जनजाति और पिछड़ा वर्ग के कल्याण समिति- इसके अलावा अनुसूचित जाति जनजाति और पिछड़ा वर्ग के कल्याण समिति के लिए हरिशंकर खटीक (Harishankar khatik) को सभापति नियुक्त किया गया है। इसके अलावा करण सिंह वर्मा, कलावती भूरिया, जय सिंह मरावी, ठाकुरदास नागवंशी, नंदनी मरावी, पुरुषोत्तम लाल तंतुबाय, प्रद्युमन सिंह लोधी, नाथ सिंह मार्को, बैजनाथ कुशवाहा, महेंद्र हार्डिया, मनोज चावला, मेवाराम जाटव और सिद्धार्थ कुशवाहा सुभाष रामचरित्र को सदस्य नियुक्त किया गया है।

स्थानीय निकाय और पंचायत राज लेखा समिति- जबकि स्थानीय निकाय और पंचायत राज लेखा समिति के लिए सभापति अजय विश्नोई के अलावा कमलेश्वर पटेल, कमलेश जाटव, जयवर्धन सिंह, दिव्यराज सिंह, दिलीप सिंह गुर्जर, राम लल्लू वैश्य, विक्रम सिंह, विनय सक्सेना, सज्जन सिंह वर्मा और संजय शाह को सदस्य नियुक्त किया गया है।

प्राककलन समिति- वहीं प्राककलन समिति के लिए सभापति रामपाल सिंह (rampal singh) के अलावा आलोक चतुर्वेदी, चेतन कश्यप, तरुण भनोट, मनोज नारायण सिंह, चौधरी मीना, विक्रम वर्मा, लक्ष्मण सिंह, कुंवर विक्रम सिंह, वीरेंद्र रघुवंशी, सुदेश राय और हीरालाल अलावा को सदस्य नियुक्त किया गया है।