राहुल गांधी ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, कहा- देश कोरोना सुनामी की गिरफ्त में, हरसंभव कदम उठाएं

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। पत्र में उन्होने पीएम से आग्रह किया है कि कोरोना वायरस के सभी स्वरूपों का वैज्ञानिक तरीके से पता लगाया जाए। साथ ही सभी देशवासियों को जल्द से जल्द वैक्सीन लगाई जाए।

24 घंटे में रिकॉर्ड कोरोना संक्रमण के मामले, 4,14,188 के साथ अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा

राहुल गांधी ने अपने पत्र में कहा है कि कोरोना म्यूटेशन को लगातार ट्रैक करने की जरूरत है। उन्होने कहा कि मैं फिर से आपको पत्र लिखने के लिए विवश हूं क्योंकि देश कोविड सुनामी की चपेट में है। उन्होने कहा कि वायरस के अनिंयत्रित संक्रमण का असर भारत में ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया पर पड़ेगा। उन्होने पत्र में ये आरोप भी लगाया कि भारत सरकार की विफलता के कारण एक बार फिर देश लॉकडाउन की स्थिति में आ गया है। इस स्थिति में गरीबों को तत्काल आर्थिक मदद दी जाए ताकि उन्हें पिछले साल जैसे हालात से न गुजरना पड़े। राहुल गांधी ने लिखा कि दुनिया के प्रत्येक छह संक्रमित व्यक्तियों में से एक भारतीय है। हमारी परिस्थितियां, आनुवांशिक जटिलता और विविधता इस वायरस के लिए अनुकूल साबित हो रही है तथा वह अपना स्वरूप बदलने व और खतरनाक रूप में सामने आ सकता है। इसलिए इस वायरस के विभिन्न स्वरूपों का वैज्ञानिक तरीके से पता लगाया जाना जरूरी है। साथ ही सभी नए म्यूटेशन पर वैक्सीन के असर का आंकलन भी किया जाए। राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री से आग्रह किया है कि इस स्थिति में गरीब लोगों को आर्थिक सहायता के साथ खाद्य सामग्री उपलब्ध कराई जाए।