MP News- शिवराज सरकार का इन छात्रों को तोहफा, आदेश जारी

प्रोत्साहन राशि विद्यार्थियों के गृह जिले के जिलाधिकारियों द्वारा देय होगी। इस संबंध में विभाग ने आदेश जारी किये हैं।

mp

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) के आदिम-जाति कल्याण विभाग (Tribal Welfare Department) ने छात्रों (Student) को बड़ा तोहफा दिया है। विभाग ने आकांक्षा योजना के अंतर्गत चयनित छात्रों को प्रतिभा योजना (Pratibha Yojana) के अंतर्गत मिलने वाली प्रोत्साहन राशि जारी कर दी है। विभाग ने विद्यार्थियों के गृह जिले के जिलाधिकारियों (District Officers) को इस संबंध में आदेश जारी कर दिए है। पात्र छात्र वेबसाइट Www.Tribal.Mp.Gov.In/MPTASS पर जाकर इसका लाभ ले सकते है।

यह भी पढ़े.. MP : किसानों को लेकर शिवराज सरकार का एक और बड़ा फैसला, रोडमैप तैयार

दरअसल, जारी आदेश में कहा गया है कि आदिम-जाति कल्याण विभाग द्वारा संचालित आकांक्षा योजना (Aakaanksha Yojana) के अंतर्गत जेईई, नीट और क्लेट (JEE, NEET And CLAT) की परीक्षा में चयन होने के बाद काउंसिलिंग (Counseling) और प्रवेश के दौरान विद्यार्थियों को प्रतिभा योजना के अंतर्गत प्रोत्साहन राशि का भुगतान किया जाएगा। प्रोत्साहन राशि विद्यार्थियों के गृह जिले के जिलाधिकारियों द्वारा देय होगी। इस संबंध में विभाग ने आदेश जारी किये हैं।

प्रतिभा योजना क्या है।
अनुसूतचि जनजाति वर्ग के विद्यार्थियों जिन्होंने राष्ट्रीय प्रतियोगिता परीक्षा (JEE, NEET, CLAT, AIIMS, NDA) पास कर IIT, NIT, NLU, MBBS (मध्यप्रदेश में स्थित शासकीय महाविद्यालय), AIIMS या NDA में प्रवेश लिया हो, वे प्रतिभा योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है |

बता दे कि आदिम-जाति कल्याण विभाग द्वारा आकांक्षा योजना के अंतर्गत वर्ष 2020-21 में आदिवासी विद्यार्थियों (Tribal Students) को राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा (National Entrance Exam) की तैयारी के लिये आवेदन-पत्र विभागीय वेबसाइट Www.Tribal.Mp.Gov.In/MPTASS पर अपलोड कर दिया गया है। इच्छुक छात्र-छात्राएँ अपने आवेदन (Apply) 20 फरवरी से 20 मार्च, 2020 तक भर सकते हैं। उल्लेखनीय है कि प्रदेश में आदिम-जाति कल्याण विभाग द्वारा 4 संभागीय मुख्यालयों जबलपुर (Jabalpur), इंदौर (Indore), भोपाल (Bhopal) एवं ग्वालियर (Gwalior) में जेईई, नीट, एम्स (AIIMS)और क्लेट की तैयारी के लिये द्विवर्षीय नि:शुल्क कोचिंग (Coaching) दिये जाने की व्यवस्था है।

आहार अनुदान योजना में 22 करोड़ रुपये आवंटित
इधर आदिम-जाति कल्याण विभाग ने पी.व्ही.टी.जी. आहार अनुदान योजना (Aahaar Anudaan Yojana)
में 22 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की है।मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में सहरिया, भारिया एवं बैगा परिवारों को कुपोषण की समस्या से मुक्त करने के लिये विशेष पोषण-आहार योजना संचालित की जा रही है। योजनांतर्गत प्रत्येक परिवार की महिला मुखिया के खाते में प्रतिमाह एक हजार रुपये की राशि जमा की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here