Sex Racket: देह व्यापार के तार सितंबर 2020 कार्रवाई से जुड़े, धंधे से जुड़ी 3 युवतियों की पहचान पर संदेह!

Sex Racket: वही पुलिस की हालिया कार्रवाई के दौरान पकड़ी गई तीन युवतियों की पहचान को लेकर कई सवाल उठ रहे है जिसकी जांच पुलिस कर रही है।

sex racket

इंदौर, आकाश धोलपुरे। एक दिन पहले इंदौर (Indore) के विजय नगर थाना क्षेत्र में जिस रैकेट (Sex racket) पर दबिश देकर पुलिस 11 युवक – युवतियों को गिरफ्तार किया था। उस मामले में अब बड़े खुलासे सामने आ रहे है। बता दे कि शुक्रवार की रात पुलिस की होटल चेकिंग के दौरान मिली सूचना पर शीतल नगर स्थित लव होटल में छापा मार कार्रवाई कर बाहरी युवतियों और 2 दलालों सहित 6 युवकों को गिरफ्तार किया गया था। इस मामले में होटल मालिक पर भी प्रकरण दर्ज किया गया था। वही पुलिस के सामने ये जानकारी भी आई थी कि लव होटल में जिस्मफरोशी का गोरखधंधा पिछले 3 महीने से चल रहा था।

इधर, पुलिस ने गिरफ्त में आये युवक युवतियों की पहचान के साथ ही पूछताछ की तो कई चौंकाने वाले खुलासे हुए है। दरअसल, लव होटल पर दबिश के दौरान जिन दो दलालों को गिरफ्तार किया गया है उनके तार पिछले साल की बड़ी कार्रवाई से जुड़े है, जिसमे पुलिस ने अवैध तरीके से बांग्लादेश से लाई गई युवतियों सहित कई लोगो पर शिकंजा कसा था। वही पुलिस की हालिया कार्रवाई के दौरान पकड़ी गई तीन युवतियों की पहचान को लेकर कई सवाल उठ रहे है जिसकी जांच पुलिस कर रही है।

Read More: Khandwa Road Accident : अनियंत्रित होकर पलटी बस, एक की मौत, 15 से अधिक घायल

विजय नगर थाना प्रभारी तहजीब काजी की माने तो सेक्स रैकेट में लिप्त युवक युवतियों से पूछताछ में पता चला है कि सितंबर 2020 में पुलिस ने जो सेक्स रैकेट पकड़ा था उसकी मुख्य आरोपी मीना और शैजल थी। दोनों के जेल में जाने के बाद उनका ऑटो ड्रायवर जो लड़कियों को लाता ले जाता था और एक महिला आरोपी का लड़के ने फिर से अन्य दलालों से संपर्क साधकर पिछले 2 महीने से फिर से धंधा शुरू कर दिया था। वही गिरफ्त में आई 5 युवतियों में 3 युवतियों की आईडी (पहचान पत्र) संदिग्ध है। तीनो बंगाल और मुंबई की जिनकी जांच की जा रही है।

वही पुलिस मानव तस्करी के एंगल से भी पूरे मामले की जांच कर रही है। रविवार को विजयनगर थाना प्रभारी ने साफ किया कि तीनों संदिग्ध युवतियों की काउंसलिंग की जाएगी उसके बाद पूछताछ करने पर कुछ और भी खुलासे की उम्मीद है। वही पुलिस गिरफ्त में आये आरोपियों पर अन्य धाराएं भी जोड़ी जा सकती है इसके अलावा ये भी पता लगाने में जुटी है कि कही संदिग्ध युवतियों के तार बांग्लादेश से तो नही जुड़े है।

फिलहाल, विजय नगर थाना क्षेत्र में संचालित किए जा रहे सेक्स रैकेट पर पुलिस की दबिश के बाद एक बार फिर वही सवाल उठने लगे है कि आखिर ये गोरखधंधा कब तक यूं हो बदस्तूर जारी रहेगा जबकि पुलिस पहले भी सेक्स रैकेट संचालको पर कड़ी कार्रवाई कर चुकी है।