किसान आंदोलन- MP के किसानों पर शिवराज सरकार का फोकस, बनाया यह मेगा प्लान

उधर किसान सम्मेलन के पहले बीजेपी 14 दिसंबर से 16 दिसंबर के तक जनजागरण अभियान भी चलाने जा रही है। इसके माध्यम से बीजेपी कृषि बिल से होने वाले लाभों के किसानों को बताएगी और बिल को समझाने की कोशिश करेगी।

शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। किसानों (Farmers) द्वारा चल रहे कृषि कानून (Farmer Bill) के खिलाफ आंदोलन के डैमेज कंट्रोल (Damage Control) का मध्य प्रदेश बीजेपी (MP BJP) ने मेगा प्लान (Mega Plan) तैयार किया है। प्लान के तहत बीजेपी प्रदेश में 2 दिनों में 7 किसान सम्मेलन करने जा रही है। सम्मेलन में प्रदेश सरकार (Shivraj Government) किसानों को केंद्र द्वारा लागू किए गए कृषि कानून के फायदे बताने और इससे जुड़े झूठ और सच बताने की कोशिश करेगी।

यह 2 दिन होने वाला सम्मेलन 15 से 16 दिसंबर तक चलेगा। मुख्यमंत्री शिवराज (Shivraj) और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा VD Sharma) इसका मोर्चा संभालेंगे। गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra), केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar), राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) और केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत (Thawarchand Gehlot) भी सम्मेलनों में मौजूद रहेंगे।

इस 2 दिवसीय सम्मेलन में हर संभाग में क्षेत्र के बड़े नेताओ को मंच दिया जाएगा। नरोत्तम मिश्रा इंदौर में होने वाले सम्मेलन में मंच संभालेंगे, फग्गन सिंह कुलस्ते जबलपुर में वहीं प्रहलाद पटेल सागर में। इसके अलावा सभी सांसद, विधायक और जिला स्तरीय पदाधिकारियों को पार्टी ने एक्टिव कर दिया है।

भोपाल में 15 दिसंबर को सम्मेलन
भोपाल के भेल दशहरा मैदान में 15 दिसंबर को किसान सम्मेलन आयोजित होगा। इस सम्मेलन को मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष संबोधित करने वाले है। मंगलवार को कृषि मंत्री कमल पटेल ने शाम को पहुंच कर सम्मेलन स्थल का निरीक्षण किया है।

यहां हाेंगे सम्मेलन
15 दिसंबर से होने वाला सम्मेलन भोपाल (Bhopal) के साथ उज्जैन में भी होगा। जिसमें मुख्यमंत्री शिवराज, वीडी शर्मा और केन्द्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत शामिल होंगे। वहीं 16 दिसंबर को प्रदेश में 5 जगह सम्मेलन होंगे। सम्मेलन जबलपुर, रीवा, ग्वालियर, सागर (Sagar) और इंदौर (Indore) में होंगे। जबलपुर (Jabalpur) में होने वाले सम्मेलन को सीएम, प्रदेश अध्यक्ष समेत केन्द्रीय मंत्री फग्गनसिंह कुलस्ते संबोधित करेंगे। रीवा (Rewa) में सीएम शिवराज, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा सम्मेलन को संबोधित करेंगे। ग्वालियर में होने वाले सम्मेलन में केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर और राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया शामिल होंगे। सागर में मंत्री गोपाल भार्गव, केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल, इंदौर में गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा और राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय मौजूद रहेंगे।

14 से 16 दिसंबर तक जनजागरण अभियान
उधर किसान सम्मेलन के पहले बीजेपी 14 दिसंबर से 16 दिसंबर के तक जनजागरण अभियान भी चलाने जा रही है। इसके माध्यम से बीजेपी कृषि बिल से होने वाले लाभों के किसानों को बताएगी और बिल को समझाने की कोशिश करेगी।