किसान सम्मान निधि : CM का तोहफा- MP के 20 लाख किसानों के खाते में 400 करोड़ ट्रांसफर

शिवराज सिंह चौहान आज सागर मुख्यालय (Sagar Headquarters) से कार्यक्रम में शामिल होंगे और किसान सम्मान निधि की राशि सिंगल क्लिक से किसानों के खाते में अंतरित करेंगे।

किसान सम्मान निधि

सागर, डेस्क रिपोर्ट। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj Singh Chauhan) ने मध्यप्रदेश के लाखों किसानों (farmers) को तोहफा दिया है। मुख्यमंत्री ने बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा के साथ आज सागर (Sagar District) में मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना (Kisan Samman Nidhi) के अंतर्गत 20 लाख किसानों के बैंक खातों में रु. 400 करोड़ की राशि सिंगल क्लिक से ट्रांसफर की और कहा कि  सुशासन देना हमारी जवाबदेही है, उससे हम पीछे नहीं हटेंगे। हम जनता के कल्याण के लिए हरसंभव उपाय और कार्य करेंगे।

यह भी पढ़े… MP School : स्कूल शिक्षा विभाग के निर्देशों का पालन नहीं कर रहे निजी स्कूल, ये है पूरा मामला

कार्यक्रम की शुरुआत कन्यापूजन से की गई।इस दौरान सागर जिले के 430 करोड़ रुपये के विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया। इस मौके पर सागर मुख्यालय (Sagar Headquarters) पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि संबल योजना, जो गरीबों का संबल थी; को बंद करने का पाप कमलनाथ (Kamal Nath) जी ने किया। हमने इसमें गरीबों के बच्चों की उच्च शिक्षा (Higher education) की फीस (fees) भरवाने से लेकर जीवन की अंतिम सांस तक सहायता की व्यवस्था की थी। गरीबों का हक छीनने वाली कांग्रेस गरीब हितैषी होने का ढोंग करती है।

सीएम ने कहा कि हमारे यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने किसान सम्मान निधि में किसानों को प्रति वर्ष 6 हजार रुपये देने का निर्णय किया, तो मैंने भी इसमें 4 हजार रुपया जोड़ने का फैसला किया। अब प्रदेश के हर किसान को दस हजार रुपये प्रति वर्ष मिलते हैं।गरीब का 5 लाख रुपये तक का इलाज सरकारी ही नहीं, निजी अस्पतालों (Private Hospitals) में भी आयुष्मान योजना के अंतर्गत होगा। हमने प्रदेश के 2 करोड़ नागरिकों का आयुष्मान कार्ड (Ayushman Card) बनवाने का काम किया। इलाज के अभाव में कोई गरीब परेशान नहीं होगा।

MP Board: 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के लिए टाइम टेबल जारी, देखे यहां क्या है मामला

सीएम ने कहा कि जिन्हें खेती का क, ख, ग नहीं पता है, वे नये कृषि कानूनों की व्याख्या कर रहे हैं। राहुल गांधी (Rahul Gandhi) जैसे लोग किसान को गुमराह करके अपना हित साधने का कुत्सित प्रयास कर रहे हैं ।कांग्रेस (Congress) की सरकार के समय केवल 7.5 लाख हेक्टेयर ज़मीन में सिंचाई की व्यवस्था थी। हमने इसे बढ़ाकर 40 लाख हेक्टेयर किया और अब हम 65 लाख हेक्टेयर ज़मीन में सिंचाई की व्यवस्था करने जा रहे हैं।

आगामी किश्त भी जल्द होंगे ट्रांसफर

इससे पहले राजस्व एवं परिवहन मंत्री गोविन्द सिंह राजपूत (Revenue and Transport Minister Govind Singh Rajput) ने बताया कि मुख्यमंत्री ने मध्यप्रदेश के किसानों की खुशहाली के लिये मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना शुरू की है। इस योजना के तहत वित्तीय वर्ष में 2 समान किश्तों में कुल राशि चार हजार का भुगतान किसानों को किया जायेगा। वित्तीय वर्ष के अंतर्गत दी जाने वाली दो समान किस्तों में से प्रथम किश्त का भुगतान एक अप्रैल से 31 अगस्त के मध्य तथा द्वितीय किश्त का भुगतान 01 सितंबर से 31 मार्च के मध्य किया जाता है।

लाखों किसानों के खाते में ट्रांसफर हो चुकी है राशि

उल्लेखनीय है कि मध्यप्रदेश सरकार (MP Government) ने प्रदेश के 70 प्रतिशत नागरिक, जिनकी आजीविका कृषि पर आधारित है, के हित में अनेक योजनाएँ बनाई हैं। मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना की पहली किश्त 25 से 26 सिंतबर 2020 को प्रदेश के 7 लाख 50 हजार किसानों को 150 करोड रूपये, 2 नवंबर 2020 को 5 लाख किसानों को 100 करोड़ तथा 3 नवंबर 2020 को 5 लाख किसानों को 100 करोड़ की राशि का भुगतान किया गया है। योजना की दूसरी किश्त हितग्राही किसानों को 30 जनवरी को दी गई है।

हर महिने किसानों को मिलते है 10 हजार

बता दे कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi) के तहत केंद्र सरकार (Central government) द्वारा देशभर के किसानों को 6000 रुपए  तीन किस्तों में दिए जाते हैं। इसके बाद  प्रदेश के किसानों के हित में निर्णय लेते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना (CM Kisan Samman Nidhi) शुरू की है।  योजनान्तर्गत किसानों को एक वित्तीय वर्ष में दो समान किश्तों में कुल 4 हजार रूपये की सम्मान निधि दिये जाने का प्रावधान रखा गया है। अब हर साल किसानों को कुल 10,000 रुपए दिए जा रहे हैं।  अब तक साढ़े 17 लाख किसानों को किसान सम्मान निधि योजना का लाभ दिया जा चुका है।