सीएम शिवराज सिंह चौहान

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। ओलावृष्टि (Hail) से बर्बाद हुई किसानों (Farmers) की फसल और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) के लेटर के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) का बड़ा बयान सामने आया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कुछ स्थानों पर हुई बेमौसम बारिश (Rain) को देखते हुए राज्य सरकार (MP Government) ने अधिकारियों को क्षति के आकलन के निर्देश दिए हैं। किसानों को आवश्यकतानुसार फसलों की क्षति के आधार पर जरूरी राहत प्रदान की जाएगी।

यह भी पढ़े.. शिवराज सिंह चौहान का बड़ा ऐलान-MP में जल्द शुरु होगी यह योजना, मिलेगा रोजगार

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश के कुछ स्थानों पर बेमौसम बारिश और कहीं-कहीं हुई ओलवृष्टि से फसलों को पहुँची क्षति की जानकारी प्राप्त की है और संबंधित जिलों के कलेक्टर्स (Collector) के साथ ही राजस्व और कृषि विभाग (Department of Revenue and Agriculture) के अधिकारियों से भी चर्चा हुई है। जिलों में कहीं-कहीं फसलें आड़ी हो गई हैं। क्षति का आकलन किया जा रहा है। संबंधित अधिकारी फील्ड में हैं और सर्वे कार्य कर रहे हैं।

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि किसानों को जैसा नुकसान हुआ है, उन्हें आवश्यक राहत प्रदान की जाएगी। किसानों को हुए नुकसान की जानकारी लेकर प्रतिदिन समीक्षा की जाएगी। संकट के समय राज्य सरकार किसान भाईयों के साथ है। किसानों को राहत देने में विलंब भी नहीं होगा।

यह भी पढ़े.. MP Board: निजी स्कूलों को एक और मौका, 31 मार्च तक कर सकते है आवेदन

शिवराज सिंह चौहान ने कहा क्षति के आंकलन के बाद जहां जैसा नुकसान हुआ है उसके हिसाब से किसानों को राहत प्रदान की जायेगी। किसान भाइयों को चिंता करने की जरूरत नहीं है। सरकार उनके साथ खड़ी है। मैं रोज रिपोर्ट ले रहा हूं, जो भी आवश्यक सहायता होगी प्रदान की जायेगी।