अचानक जबलपुर पहुंचे कृषि मंत्री कमल पटेल, कलेक्टर-SP और BJP नेताओं की लगाई पाठशाला

कृषि मंत्री ने एसपी और कलेक्टर की क्लास लगाते हुए उन्हें सफलता और सार्थकता का पाठ पढ़ाया।

kamal patel

जबलपुर, संदीप कुमार। मप्र (MP) के कृषि मंत्री कमल पटेल (Agriculture Minister Kamal Patel) का आज अचानक जबलपुर (Jabalpur) आगमन हुआ है। इस दौरान मंत्री जी ने अपनी पाठशाला का आयोजन भी किया, इस पाठशाला में  कलेक्टर-एसपी (Collector-SP) और कुछ भाजपा के नेता (BJP Leader) शामिल हुए। कृषि मंत्री ने एसपी और कलेक्टर की क्लास लगाते हुए उन्हें सफलता और सार्थकता का पाठ पढ़ाया।

यह भी पढ़े… Indore News : सड़क पर आपस में भिड़ी लड़कियां, जमकर हुई हाथापाई, VIDEO VIRAL

कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा कि सफलता (Success) प्राप्त की जा सकती है पर सार्थकता पाने के लिए मेहनत करनी पड़ती है, जब तक सार्थकता नहीं आएगी हमारी सफलता का कोई मतलब नहीं है। इसलिए सफलता के साथ सार्थकता पर ध्यान दिया जाना आवश्यक है।

कृषि मंत्री ने अपने अंदाज में पुलिस अधीक्षक और कलेक्टर को समझाया कि किसी भी काम में सफल हो जाना हमारा कर्तव्य नहीं है जब तक उस सफलता का प्रतिफल प्राप्त न होने लगे तब तक सफलता बेकार है। उदाहरण देते हुए कृषि मंत्री ने कहा कि जनता जब तक न बोले की ये काम ठीक हुआ तब तक सारी योजनाएं और काम बेकार है।

यह भी पढ़े… मध्य प्रदेश के कर्मचारियों को लेकर शिवराज सरकार का बड़ा फैसला

दरअसल, कृषि मंत्री और जिले के प्रभारी कमल पटेल नर्मदा परिक्रमा के दौरान आज शहर ग्वारीघाट के गीता धाम आश्रम पहुंचे। इस मौके पर उन्होंने कहा कि पंडित नेहरू से लेकर डॉक्टर मनमोहन सिंह (Dr. Manmohan Singh) तक कांग्रेस (Congress) ने किसानों के लिए सही कदम नहीं उठाए। इसी वजह से किसान (Farmers) परेशान है,केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) ने किसानों की आय दो गुना करने का संकल्प लिया है और इसी के तहत कृषि कानून (Agricultural law) लाया गया है लेकिन इसे दुर्भाग्य कहेंगे कि कुछ स्वार्थी लोग इसका विरोध कर रहे हैं।

कृषि मंत्री ने कहा कि अब तक किसान मेहनत करता आ रहा है,लेकिन माल कमाते थे कुछ लोग ऐसे लोगों पर प्रतिबंध लगाने के लिए प्रधानंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने कृषि कानून लेकर आए हैं, कृषि मंत्री ने प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछली सरकार ने कर्ज माफी (Debt Waiver) पर झूठ बोला और इसी वजह से करीब 9 हजार किसान डिफॉल्टर हो गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here