Transfer In MP: तबादलों की नई तारीख अब तक तय नहीं, जल्द फैसले की उम्मीद

कैबिनेट बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बड़ा फैसला करते हुए तबादलों पर 15 अगस्त तक रोक लगा दी और इसके बाद विचार करने को कहा था।

TRANSFER

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। बीते दिनों मध्य प्रदेश में आई बाढ़ (MP Flood) के हालातों को देखते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने कैबिनेट बैठक में 15 अगस्त तक तबादलों पर रोक लगाने के निर्देश दिए थे, जिसमें सिर्फ अब एक दिन का समय बचा है।  वही मध्य प्रदेश में तबादलों की समय सीमा बढ़ाने को लेकर भी अभी तक कोई फैसला नहीं लिया गया है, पिछले तारीख की अवधि 7 अगस्त को समाप्त हो गई है, हालांकि पिछले तारीखों में तबादले के आदेश जारी हो रहे है,  ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि जल्द शिवराज सरकार तबादलों को लेकर फैसला ले सकती है।हालांकि अभी तक कोई अधिकारिक बयान सामने नहीं आया है।

यह भी पढ़े.. MP: पंचायत सचिव-प्रभारी निलंबित, 3 रोजगार सहायकों की सेवा समाप्त, CEO को नोटिस

दरअसल, पिछले महिने शिवराज सरकार (Shivraj Government) ने तबादलों पर रोक हटा दी थी, नई ट्रांसफर पॉलिसी (New Transfer Policy) के तहत 1 से 31 जुलाई के बीच तबादले होने थे, लेकिन इस अवधि में कई अधिकारी-कर्मचारी छूट गए थे, जिनके ट्रांसफर होने थे, ऐसे में शिवराज सरकार ने 7 अगस्त तबादलों (Transfer) तक तबादलों की अवधि को बढ़ा दिया था, लेकिन जुलाई के आखिरीऔर अगस्त के पहले सप्ताह में तेज बारिश के चलते ग्वालियर चंबल में बाढ़ के हालात बन गए, जिसके बाद 6 अगस्त को हुई कैबिनेट बैठक (cabinet meeting) में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान  ने बड़ा फैसला करते हुए तबादलों पर 15 अगस्त तक रोक लगा दी और इसके बाद विचार करने को कहा था।

यह भी पढ़े.. MP Weather: मप्र में 5 दिन बाद फिर झमाझम के आसार, आज इन जिलों में बौछार की संभावना

तबादलों को लेकर अभी तक सरकार ने कोई फैसला नहीं लिया है और ना ही 7 अगस्त की तबादला अवधि को बढ़ाए जाने का निर्णय हुआ है, लेकिन कुछ विभाग पिछली तारीखों में आदेश जारी कर रहे हैं।मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो श्रम विभाग ने 6 अगस्त तबादले किए गए है और कर्मचारी राज्य बीमा सेवाएं संचालनालय ने 12 अगस्त को अधीक्षक, बीमा चिकित्सा अधिकारी, सहायक शल्क चिकित्सक और दंत चिकित्सकों का प्रशासकीय और स्वैच्छिक आधार पर तबादला किया गया।उम्मीद की जा रही है कि जल्द ही तबादलों की नई तारीखों को लेकर फैसला हो सकता है, चुंकी कई अधिकारियों और कर्मचारियों की सूचियां मंत्रियों के पास अटकी हुई है और कई आदेश भी सीएम की रोक चलते बीच में ही रुके हुए है।