प्रभार लेते ही तुलसी सिलावट ने मुरैना कलेक्टर से मांगी रिपोर्ट, अधिकारी को थमाया नोटिस

वही तुलसी सिलावट मुख्य अभियंता जल संसाधन को सख्त निर्देश देते हुए इस लापारवाही की जांच करने के भी निर्देश दिए हैं।

tulsi Silawat

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। शिवराज सरकार (Shivraj Government) में जल संसाधन मंत्री और ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) समर्थक तुलसी सिलावट (Tulsi Silawat ) जल संसाधन विभाग (Department of Water Resources) का प्रभार लेते ही एक्शन मोड में नजर आए। पहले दिन उन्होंने सबलगढ़ मुरैना में नहर के क्षति ग्रस्त होने पर नाराजगी जाहिर करते हुए मामले की अद्यतन रिपोर्ट मुरैना कलेक्टर (Morena Collector) से मांगी है।

यह भी पढ़े…MP: अज्ञातवास से लौटे प्रद्युम्न सिंह तोमर का एक्शन- अधिकारियों को दिए यह बड़े निर्देश

वही तुलसी सिलावट मुख्य अभियंता जल संसाधन को सख्त निर्देश देते हुए इस लापारवाही की जांच करने के भी निर्देश दिए हैं। इस सिलसिले में मुख्य अभियंता जल संसाधन विभाग ने सबलगढ़ मुरैना के प्रभारी कार्यपालन यंत्री श्रीवास्तव को कारण बताओ सूचना पत्र जारी कर 15 दिन में जवाब देने के निर्देश दिए हैं।

दरअसल, कोटा बैराज राजस्थान (Kota Barrage Rajasthan) से नहर में पानी छोड़ने के कारण मुरैना सबलगढ़ की नहर (Canal of Morena Sabalgarh) क्षतिग्रस्त हो गई थी जिससे खेतो में पानी भर गया था और आगे खेतों में सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध नहीं हो रहा था। आज नहर की मरम्मत कर ली गई है और खेतों को पानी की सप्लाई भी शुरू हो गई है।वही तुलसी सिलावट ने प्रदेश की सभी नहरों की वर्तमान स्थिति और उनकी ऑडिट रिपोर्ट (Audit Report) एक सप्ताह में प्रस्तुत करने को कहा है।

बता दे कि 3 जनवरी को मंत्री पद की शपथ लेने के बाद तुलसी सिलावट ने सोमवार को ही वल्लभ भवन 3, कक्ष 105 में जल संसाधन, मछुआ कल्याण और मत्स्य विकास विभाग का पदभार ग्रहण किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here