भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर चलाए जा रहे वैक्सीनेशन अभियान में मध्यप्रदेश ने उल्लेखनीय सफलता प्राप्त की है। सोमवार शाम 4.30 बजे तक मध्य प्रदेश में 10 लाख लोगों को वैक्सीन लगाने का आंकड़ा छू लिया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसकी घोषणा की है।

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और क्षेत्रीय सांसद डॉक्टर ने Shivpuri को दी स्वास्थ्य सुविधाओं की सौगात

तीन दिन के वैक्सीनेशन महाअभियान के लिए प्रदेश सरकार ने व्यापक स्तर पर तैयारी की थी। प्रदेश भर में 7000 के लगभग वैक्सीनेशन सेंटर के साथ साथ पर्याप्त मेडिकल व पैरामेडिकल स्टाफ, सरकारी अमला, स्वयंसेवी संस्थाओं के साथ साथ सभी राजनीतिक दलों व आम जनता ने भी इस मुहिम को भारी समर्थन दिया। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के आह्वान पर सोशल मीडिया के माध्यम से तो इस अभियान में मानों तूफानी तेजी थी। सरकार का लक्ष्य था कि पहले दिन यानी 21 जून को इस अभियान में दस लाख लोगों को वैक्सीनेट किया जाएगा। शाम 4.30 बजे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधनी में घोषणा की कि प्रदेश सरकार ने इस आंकड़े को छू लिया है और अब तक 10 लाख के ऊपर लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। शिवराज खुद वैक्सीनेशन कार्यक्रम के लिए सोमवार को कई स्थानों पर गए और उन्होंने लोगों को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित किया।

बुधनी के ग्राम सिरौली में उन्होंने लोगों से कहा कि उनकी जिम्मेदारी प्रदेश की जनता की जान बचाने की है और वे इसमें कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने उदाहरण देकर बताया कि जिन जिन देशों ने ज्यादा जनसंख्या के वैक्सीन लगवाए हैं वहां अब कोरोना धीरे धीरे जा रहा है। मध्य प्रदेश में अभी मंगलवार और बुधवार को भी अभियान चलेगा और उसके बाद जुलाई महीने में तीन दिन एक बार फिर यह महा अभियान चलाया जाएगा। सरकार को पूरी उम्मीद है कि उसके अभियान के चलते प्रदेश पूरी तरह से किल कोरोना कर सकेगा।