कल्पना चावला के बाद भारत की बेटी ‘सिरिशा बांदला’ आज अंतरिक्ष के लिए भरेंगी उड़ान

34 साल की सिरिशा बांदला वर्जिन गैलेक्टिक फ्लाइट के चालक दल के पांच सदस्यों के साथ अंतरिक्ष के लिए उड़ान भरेंगी।

विदेश, डेस्क रिपोर्ट। भारत की एक और बेटी कामयाबी का परचम लहराने अंतरिक्ष में उड़ान भरने वाली हैं। भारत की महान बेटियों कल्पना चावला और सुनीता विलियम्स के बाद सिरिशा बांदला एक और भारतवंशी होगी, जो अंतरिक्ष में सैर करने जाएंगी। सिरिशा बांदला, रिचर्ड ब्रैन्सन की स्पेस कंपनी वर्जिन गैलेक्टिक के अंतरिक्ष यान वर्जिन ऑर्बिट में बैठकर अंतरिक्ष की सैर पर निकलने वाली है।

MP News: फर्जीवाड़ा- नगरीय प्रशासन विभाग में अपर आयुक्त IAS संतोष वर्मा गिरफ्तार

कड़ी मेहनत और पक्का इरादा सफलता की पहली कुंजी है, और इसे कर दिखाया आंध्र प्रदेश के गुंटूर जिले में जन्मीं सिरिशा बांदला (Sirisha Bandla)  ने। 34 साल की सिरीशा न्यू मैक्सिको (New Mexico) से वर्जिन गेलेक्टिक के VSS यूनिटी के 5 अन्य यात्रियों के साथ रवाना होने के लिए तैयार है। आज यानी 11 जुलाई को सिरीशा स्पेस के लिए रवाना होगीं। एयरक्राफ्ट से वर्जिन गेलेक्टिक अपने रॉकेट शिप को लॉन्च करेगा। यह लगभग 55 मील की ऊंचाई तक पहुंचेगा। अरबपति रिचर्ड ब्रैनसन और वर्जिन ग्रुप के संस्थापक भी रॉकेट पर सवार होगें।

घर के बाहर खड़ी मासूम को तेज रफ्तार कार ने कुचला, मौत, लोगों ने कार में की तोड़फोड़

11 जुलाई को अंतरिक्ष की उड़ान

11 जुलाई को अंतरिक्ष में जाने वाली उड़ान को लेकर वर्जिन गेलेक्टिक ने एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें बंदला को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि वह अवाक रह गईं, जब उन्होनें सुना कि वे वर्जिन गेलेक्टिक रॉकेट पर सवार 6 लोगों में से एक हैं। बतादें कि 2 जुलाई को ब्रैनसन ने अंतरिक्ष यात्रा की घोषणा की थी। उन्होनें ट्वीट किया था, मैं हमेशा सपने देखने वाला रहा हूं। मेरी मां ने मुझे कभी हार नहीं मानने और सितारों तक पहुंचने की शिक्षा दी है और 11 जुलाई को उस सपने को हकीकत में बदलने का समय आ गया है।

अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री हैं Sirisha Bandla

34 वर्षीय आंध्र प्रदेश के गुंटूर जिले में जन्मीं सिरीशा बंदला अमेरिका के ह्यूस्टन में पली बढ़ी हैं। वह एक भारतीय मूल की अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री हैं। एक इंटरव्यू में सिरीशा ने बताया कि उन्हें ऐसा लगता है कि वह पूरे भारत को अपने साथ लेकर स्पेस में जा रही हैं। उन्होंने बताया कि वो 4 साल की उम्र में अपने माता-पिता के साथ अमेरिका चली गई थीं। उन्होंने जॉर्ज वाशिंगटन यूनिवर्सिटी से एमबीए किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सिरीशा बंदला वर्जिन गेलेक्टिक रॉकेट पर अंतरिक्ष यात्री संख्या 4 के रूप में जाएंगी। यहां पर उनका काम एक रिसर्चर का होगा।

कल्पना चावला के बाद भारत की बेटी ‘सिरिशा बांदला’ आज अंतरिक्ष के लिए भरेंगी उड़ान

अंतरिक्ष में जाने वाली दूसरी भारतीय महिला रिचर्ड ब्रैन्सन की कंपनी वर्जिन गैलेक्टिक भी अब स्पेस रेस में काफी तेजी से शामिल हो गई हैं और उसमें सिरिशा बांदला का काफी महत्वपूर्ण योगदान रहा है। सिरिशा बांदला वॉशिंगटन में कंपनी का कामकाज संभालती हैं। वर्जिन गैलेक्टिक कंपनी ने हाल ही में बोइंग 747 प्लेन की मदद से अंतरिक्ष में एक सैटेलाइट को लॉन्च किया था। सिरिशा बांदला ने जार्जटाउन यूनिवर्सिटी से एमबीए किया हुआ है। वहीं, सिरिशा बांदला के एक रिश्तेदार रामाराव ने उनकी कामयाबी पर कहा कि ‘निश्चित तौर पर ये गर्व की बात है कि वो रिचर्ड के साथ अंतरिक्ष में जा रही है। हम उसकी सुरक्षित यात्रा की कामना करते हैं’।