कर्मचारियों का इंतजार खत्म, इस महीने से मिलेंगे बढ़े हुए DA, जाने डिटेल्स

i july 2021

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। देश के 7वें वेतन आयोग (7th pay commission) के 52 हज़ार कर्मचारियों (employees) सहित 60 हज़ार पेंशनरों (pensioners) के लिए बड़ी खबर है दरअसल वित्त विभाग ने एक जुलाई 2021 से केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए 28% DA वृद्धि को लागू करने के आदेश जारी किए हैं। वही कर्मचारियों को बढ़े हुए DA का भुगतान अगस्त (august) महीने से किया जा सकता है। सूत्रों की माने तो कर्मचारी और पेंशनरों को 1 जनवरी 2020 1 जुलाई 2020 और 1 जनवरी 2021 के बढ़े हुए DA की रकम अगस्त महीने से मिलने शुरू होगी। दरअसल वित्त मंत्रालय से आदेश जारी होने के बाद इंडियन रेलवे (indian railways) के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर एमके गुप्ता ने इसे लागू करने के निर्देश दे दिए हैं।

दरअसल इस मामले में डिपार्टमेंट ऑफ पोस्ट (department of post) के असिस्टेंट डायरेक्टर ने DA लागू करने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा CPSE अंडर सेक्रेटरी शमशुल हक ने कर्मचारियों के डीए 28 फीसद करने के आदेश जारी किए है। वित्त मंत्रालय ने 1 जुलाई 2021 से केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए 28% महंगाई भत्ता (DA) वृद्धि को लागू करने का आदेश जारी किया है। वित्त मंत्रालय (finance ministry) के अनुसार, 28% डीए वृद्धि आदेश रेलवे कर्मचारियों और सशस्त्र बलों के कर्मियों पर लागू नहीं होगा। उनके लिए संबंधित मंत्रालयों द्वारा अलग से आदेश जारी किए जाएंगे।

Read More: MP News: कोरोना को लेकर सख्त HC, केंद्र को दिए निर्देश, शिवराज सरकार से मांगी जानकारी

सरकार ने 1 जुलाई 2021 से केंद्र सरकार के कर्मचारियों को देय डीए 17% की मौजूदा दर से बढ़ाकर 28% कर दिया है। इस वृद्धि ने 1 जनवरी 2020, 1 जुलाई 2020 और 1 जनवरी 2020 के अतिरिक्त किश्तों को शामिल कर लिया गया है। 1 जुलाई 2021 से जहां DA की दर 28% होगी, वहीं 1 जनवरी 2020 से 30 जून 2021 तक की अवधि के लिए यह 17% पर रहेगी।

इसके अलावा वेतन वृद्धि के साथ ही साथ केंद्र सरकार ने महंगाई भत्ता बढ़ाने के लिए हाउस रेंट अलाउंस (house rent allowance) में बदलाव किया है। जिसके बाद हाउस रेंट अलाउंस में भी वृद्धि की गई है। दरअसल HRA वृद्धि इसलिए की गई है क्योंकि DA 25 फीसद के आंकड़े को पार कर चुका है। DA वृद्धि के बाद वित्त मंत्रालय के आदेश अनुसार अब केंद्रीय कर्मचारियों को उनके शहर के हिसाब से HRA 9 फीसद, 18 फ़ीसदी या 27 फीसद दिया जाएगा।