Flowering Plants: सदाबहार खिलते रहेंगे फूल, अपने घर में लगाएं ये 4 पौधे

Flowering Plants: क्या आप भी अपने घर में ऐसे फूल के पौधे लगाना चाहते हैं जो साल भर खोलते हैं तो आज हम आपके लिए ऐसे ही कुछ पौधे लेकर आए हैं जिन्हें आप आसानी से अपने घर की छत या फिर बालकनी में लगा सकते हैं।

gardening tips

Flowering Plants: बहुत लोगों को घर में पेड़ पौधे लगाने का शौक होता है। अपनी इसी शौक के चलते लोग अपने घर का एक हिस्सा गार्डन में तब्दील कर देते हैं वहीं जिन लोगों के घर में ज्यादा जगह नहीं होती है वे लोग घर की बालकनी और घर के छत पर तरह-तरह के रंग-बिरंगे फूलों वाले पौधे लगाते हैं। पौधा लगाना बहुत ही आसान होता है लेकिन पौधों की देखभाल करना उतना ही मुश्किल होता है। कुछ फूल वाले पौधे ऐसे होते हैं जो प्रत्येक मौसम में फूल देते हैं। वहीं कुछ फूल वाले पौधे ऐसे भी होते हैं जो 12 महीने यानी कि साल भर फूल देते हैं। अगर आप भी अपने घर में साल भर खिलने वाले पौधे लगाना चाहते हैं, तो आज हम आपको इस लेख के द्वारा बताएंगे कि आप घर में कौन-कौन से फूल वाले पौधे लगा सकते हैं।

कौन-कौन से फूल खिलते हैं साल भर

गुलाब

गुलाब का फूल सिर्फ अपनी खूबसूरती के लिए ही नहीं जाना जाता, बल्कि इसकी मनमोहक खुशबू भी लोगों को अपनी ओर आकर्षित करती है। यह फूल प्यार, सौंदर्य और रोमांस का प्रतीक माना जाता है। गुलाब के फूल विभिन्न रंगों, आकारों और सुगंधों में आते हैं, जो आपके घर और बगीचे को खूबसूरत बनाते हैं। गुलाब की मनमोहक खुशबू आपके घर और आसपास के वातावरण को तरोताजा और खुशनुमा बना देती है। गुलाब के फूल हवा को शुद्ध करते हैं और मधुमक्खियों और तितलियों जैसे परागणकों को आकर्षित करते हैं। गुलाब के पौधों को दिन में कम से कम 6 घंटे सूरज की रोशनी की आवश्यकता होती है। गुलाब के पौधों को नियमित रूप से पानी देना चाहिए, खासकर गर्मियों में। मिट्टी को नम रखें, लेकिन गीली नहीं। गुलाब के पौधों को महीने में एक बार खाद देना चाहिए। आप जैविक खाद या रासायनिक उर्वरक का उपयोग कर सकते हैं। मृत या क्षतिग्रस्त तनों और पत्तियों को नियमित रूप से हटाते रहें। गुलाब के पौधों को कई तरह के रोगों और कीटों से संक्रमित हो सकते हैं। इन समस्याओं का जल्द से जल्द पता लगाकर उनका इलाज करें।

Continue Reading

About Author
भावना चौबे

भावना चौबे

इस रंगीन दुनिया में खबरों का अपना अलग रंग होता है, यह इतना चमकदार रंग होता है कि सभी की आंखें खोल देता है। यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा की कलम में बहुत ताकत होती है, इस कलम की ताकत को बरकरार रखने के लिए हर रोज पत्रकारिता के नए-नए पहलुओं को समझती और सीखती हूं। मैंने श्री वैष्णव इंस्टिट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन से बीए स्नातक किया। मैं अब आगे इसी विषय में DAVV यूनिवर्सिटी से स्नाकोत्तर कर रही हूं। मेरा पत्रकारिता का यह सफर अभी शुरू ही हुआ है। मुझे कंटेंट राइटिंग, कॉपी राइटिंग, वॉइस ओवर का अच्छा ज्ञान है। मुझे मनोरंजन, जीवनशैली, धर्म इन विषयों पर लिखना अच्छा लगता है।