Ice Facial से चेहरे को हो सकता है नुकसान, कहीं एक गलती छिन न ले चेहरे का नूर

ऐसे में अगर आप भी इसे ट्राई करने का सोच रहे हैं, तो इससे पहले इससे होने वाले साइड इफेक्ट्स के बारे में जान लें, ताकि स्किन को नुकसान होने से बचाया जा सके।

Sanjucta Pandit
Published on -

Ice Facial : ऑफिस जाना हो या फिर कोई फंक्शन में जाना हो, महिलाएं स्पेशल तरीके से तैयार होकर कुछ अलग ही दिखना चाहती हैं। इसके लिए वह घर पर ही तरह-तरह के फेशियल करती रहती हैं। उनका होममेड नुस्खा चेहरे पर रंगत लाने के साथ-साथ त्वचा को सॉफ्ट भी बनाता है। वहीं, आजकल की फेशियल का ट्रेंड काफी तेजी से चल रहा है। सेलिब्रिटीज भी इसे अपनी स्किन केयर रूटीन का हिस्सा बताते हैं। मेकअप करने से पहले चेहरे पर बर्फ के टुकड़ों का इस्तेमाल करने से मेकअप लॉन्ग लास्टिंग बना रहता है। ऐसे में अगर आप भी इसे ट्राई करने का सोच रहे हैं, तो इससे पहले इससे होने वाले साइड इफेक्ट्स के बारे में जान लें, ताकि स्किन को नुकसान होने से बचाया जा सके। आइए जानते हैं विस्तार से…

Ice Facial से चेहरे को हो सकता है नुकसान, कहीं एक गलती छिन न ले चेहरे का नूर

जानें इसके नुकसान

  • चेहरे पर ज्यादा बर्फ लगाने से एलर्जी या रैशेज की समस्या हो सकती है। हरे पर बर्फ का इस्तेमाल करते समय इसे केवल कुछ मिनटों के लिए ही लगाएं। अधिक समय तक बर्फ लगाने से त्वचा को नुकसान हो सकता है। बर्फ को सीधे त्वचा पर लगाने के बजाय एक साफ कपड़े या मलमल के कपड़े में लपेटकर इस्तेमाल करें।
  • बर्फ का इस्तेमाल करते समय अगर त्वचा पर जलन, रेडनेस या दाने दिखाई देने लगें, तो तुरंत बर्फ का इस्तेमाल बंद कर दें और ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
  • जिस तरह गर्म चीजों से स्किन जल सकती है, उसी तरह ठंडी चीजों से भी स्किन को नुकसान हो सकता है, जिसे आइस बर्न (Ice Burn) कहते हैं। बर्फ को हमेशा एक साफ कपड़े या मलमल के कपड़े में लपेटकर ही त्वचा पर लगाएं।
  • सूर्य की तेज गर्मी के साथ-साथ बर्फ से की गई आइसिंग भी स्किन को ड्राई बना सकती है। बर्फ का ठंडा प्रभाव त्वचा की नमी को सोख सकता है, जिससे त्वचा ड्राई हो सकती है। बर्फ का इस्तेमाल करने के बाद हमेशा अच्छे मॉइस्चराइजर का इस्तेमाल करें।
  • आइसिंग करने के बाद हाइड्रेटिंग फेस मास्क का उपयोग करें, जिससे त्वचा को नमी मिल सके। पर्याप्त पानी पीना त्वचा को हाइड्रेटेड रखता है। दिनभर में कम से कम 8 गिलास पानी पीने की कोशिश करें।

(Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। MP Breaking News किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है।)


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News