Tourist Destinations: 800 साल पुराने इस गांव में न सड़क है न गाड़ी, बड़ी संख्या में पहुंचते हैं टूरिस्ट

Netherlands Tourist Destinations : घूमने के शौकीन लोगों को देश-दुनिया की सैर करने की काफी ज्यादा लालसा होती है। वे अलग-अलग देशों और शहरों की संस्कृति, भोजन, इतिहास, और प्राकृतिक सौंदर्य को जानना चाहते हैं। सैर के दौरान वे नए लोगों से मिलते हैं, अपनी जीवन अनुभवों को साझा करते हैं और अपने जीवन को अधिक महत्वपूर्ण बनाने के लिए नए अनुभव प्राप्त करते हैं। इसी कड़ी में आज हम उन प्रेमियों के लिए अच्छी खबर लाएं है जो अनोखी जगहों को एक्सप्लोर करना पसंद करते हैं। यह जगह बिल्कुल बच्चों की कहानियों में दिखने वाले जगह की तरह हैं।

Tourist Destinations: 800 साल पुराने इस गांव में न सड़क है न गाड़ी, बड़ी संख्या में पहुंचते हैं टूरिस्ट

तो चलिए आज हम आपको उस अनोखे गांव के बारे में बताते हैं जो कि करीब 800 साल पुराना है। दरअसल, यह गांव का नाम गिथॉर्न है जो कि नीदरलैंड का एक बहुत ही सुंदर गांव है जो टूरिस्टों के लिए एक लोकप्रिय डेस्टिनेशन है। इस गांव की खूबसूरती का अहम हिस्सा उसकी सीरियल शैली नाव हैं, जिनसे लोग नाविक यात्रा का आनंद लेते हैं।

इस गांव में नहीं है कोई सड़क

आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि इस गांव में कोई सड़क नहीं है। इसलिए, लोग यात्रा के लिए नाव का इस्तेमाल करते हुए अपने घर या दुकान तक पहुँचते हैं। गिथॉर्न गांव अपनी खूबसूरती, शांति और अनूठी संरचना के लिए भी जाना जाता है। इस गांव की जुगाड़ू संरचना वास्तव में कमाल है जो इसे नाविकों के लिए सबसे उपयुक्त बनाता है।

यहां कुछ सैलानियों ने भी अपने घरों को नावों पर बनाया है, जिससे उन्हें अपने घर से दूसरी जगह जाने में कोई समस्या नहीं होती। इस गांव में कुछ बहुत ही सुंदर दुकानों, म्यूजियम, रेस्तरां और होटल हैं जो टूरिस्टों के लिए अच्छे आवास का विकल्प हैं। यहां  कुछ रेस्टोरेंट ऐसे भी हैं, जो आपको नाव पर भोजन कराते हैं।

गांव में कुछ बहुत ही दुर्लभ प्रजातियों के पक्षियों के आवास हैं, जिन्हें देखने के लिए टूरिस्ट यहां आते हैं। इस गांव के पास एक जंगल भी है, जहां आप ट्रेकिंग कर सकते हैं और प्रकृति का आनंद ले सकते हैं। यहां कुछ म्यूजियम और आर्ट गैलरी भी हैं, जो आपको गांव की इतिहास और कला से अवगत कराते हैं।

Giethoorn

गिथॉर्न गांव का इतिहास

दरअसलस, यह गांव 1230 में बसा था। उस वक्त इस गांव का नाम गेटेनहोर्न था और बाद में यह गिथॉर्न हो गया। बता दें कि यह पूरा गांव नहर से घिरा हुआ है। ये नहरे एक मीटर से अधिक गहरी है।

पहले इन नहरों के जरिए ईंधन में प्रयोग होने वाली घास को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने में किया जाता था। जहाँ पानी कम गहराई होती है, वहां नावों के लिए ठोस लकड़ी का इस्तेमाल किया जाता था और जहाँ पानी की गहराई अधिक होती  वहाँ फूलों के पौधों से बनी सीपियों का इस्तेमाल किया जाता था।

धीरे-धीरे यह गांव अपनी सुंदरता के लिए टूरिस्टों के बीच बहुत प्रसिद्ध होता गया और आलम यह है कि यहां पर दुनियाभर के लोग घूमने और प्रकृातिक आनंद उठाने आते हैं। नहरों की गहराई, इलेक्ट्रिक मोटरों में चलना और अपनी नावों के साथ सैलाना अनुभव इस गांव के लोगों को और भी आकर्षक बनाता है।

Tourist Destinations: 800 साल पुराने इस गांव में न सड़क है न गाड़ी, बड़ी संख्या में पहुंचते हैं टूरिस्ट

कैसे पहुंचे गिथॉर्न गांव

हवाई मार्गः सबसे आसान तरीका है गिथॉर्न के निकटतम हवाई अड्डे अम्स्टर्डम स्किपोल हवाई अड्डे हैं। अम्स्टर्डम स्किपोल हवाई अड्डे से गिथॉर्न के निकटतम हवाई अड्डे के लिए कई उड़ानें उपलब्ध हैं। अधिक जानकारी के लिए आप कोई भी यात्रा एजेंट से संपर्क कर सकते हैं।

रेल मार्गः अम्स्टर्डम से गिथॉर्न तक ट्रेन सेवाएं उपलब्ध हैं। आप अम्स्टर्डम से ट्रेन से गिथॉर्न तक सीधे जा सकते हैं। गिथॉर्न रेलवे स्टेशन से आप टैक्सी या बस का उपयोग करके अपने होटल या पर्यटन स्थल तक पहुंच सकते हैं।

सड़क मार्गः आप अम्स्टर्डम से अपनी कार या किराए की कार ले कर गिथॉर्न तक जा सकते हैं। गिथॉर्न अम्स्टर्डम से लगभग 2 घंटे की दूरी पर स्थित है।

Tourist Destinations: 800 साल पुराने इस गांव में न सड़क है न गाड़ी, बड़ी संख्या में पहुंचते हैं टूरिस्ट


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News