World Music Day: म्यूजिक में जादू है! सिर्फ कला नहीं बल्कि ये है सबसे सुलभ चिकित्सक

हालांकि बाद में जब इंसानों पर म्यूजिक के चिकित्सकीय प्रभाव देखे गए तब ये अपने आओ ही लोकप्रिय हो गया और फ्रांस के बाद करीब 120 देश world music day को धूम- धाम से मनाने लगे।

world music day
Musical notes spilling out from the brain. Musical notes are fonts from free database.

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। World Music Day एक तरह से म्यूजिक को समर्पित वार्षिकोत्सव है। यूं तो हमारी दिनचर्या (daily routine) में म्यूजिक किसी न किसी तरीके से अपनी जगह बना ही लेता है लेकिन आज के दिन म्यूजिक को हमारे जीवन में सुकून, खुशी, उत्साह और न जाने कितने तरह के इमोशन्स (emotions) भरने के लिए सेलिब्रेट किया जाता है। इस दिन सभी लोग एक जगह इकट्ठा होकर गाते-बजाते हैं और खुशियां मनाते हैं। हालांकि इस बार कोरोना संक्रमण (corona pandemic) के दौर में world music day सामाजिक तौर (socially) पे नहीं मनाया जा सकेगा। लेकिन इसका ये मतलब नहीं है कि आप इसे सेलिब्रेट नहीं कर सकते। आप सोशल मीडिया के माध्यम से, अपने घर पर, एक छोटी सी सभा बुलाकर और न जाने कितने तरीकों से इसे सेलिब्रेट कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें… उत्सव में बदला वैक्सीनेशन महाअभियान, सेंटर्स पर लगी लम्बी लम्बी लाइनें, पार होगा लक्ष्य

करीब पिछले 20 सालों से पूरे वीश्व में 21 जून को world music day के तौर पर मनाया जा रहा है। सबसे पहले इसकी शुरुआत फ्रांस में हुई थी। इसके पीछे म्यूजिक को समाज में लोकप्रिय करने का उद्देश्य था। हालांकि बाद में जब इंसानों पर म्यूजिक के चिकित्सकीय प्रभाव देखे गए तब ये अपने आओ ही लोकप्रिय हो गया और फ्रांस के बाद करीब 120 देश world music day को धूम- धाम से मनाने लगे। मयूजिक सिर्फ एक कला नहीं बल्कि जादू है।आइए जानते हैं म्यूजिक के सकारात्मक प्रभाव:

● म्यूजिक ध्यान केंद्रित करने की कला में हमारे लिए सहायक सिद्ध होता है।

● म्यूजिक प्रेरणास्रोत होता है, जीवन में बेहतर करने के लिए, विकास करने के लिए, निश्चय को दृढ़ बनाने के लिए।

World Music Day: म्यूजिक में जादू है! सिर्फ कला नहीं बल्कि ये है सबसे सुलभ चिकित्सक

● चीज़ें याद रखने में म्यूजिक का बड़ा हाथ होता है। अगर आपको याद हो तो बचपन मे आपको एबीसीडी लयबद्ध करके ही सिखाई गयी थी। संगीत के माध्यम से चीज़ें बेहतर और लंबे समय तक याद रहती हैं।

यह भी पढ़ें… Dewas: मंत्री उषा ठाकुर, सांसद और विधायक की उपस्थिति में शुरु हुआ वैक्सीनेशन महाअभियान, देखें वीडियो

● समूह में गाने से एक आपस मे प्रेम बढ़ता है। संगीत के माध्यम से आप एक दूसरे के करीब आ सकते हैं।

● म्यूजिक आपके जजमेंट के तरीकों पर भी सकारात्मक प्रभाव डालता है।

● वाद्य यंत्र बजाने से न सिर्फ आपका विजुअल बल्कि वर्बल कौशल भी बेहतर होता है।

● म्यूजिक आपके मूड को चंद मिनटों में बेहतर कर सकता है। कई लोग उदास होने पर म्यूजिक सुनते हैं क्योंकि म्यूजिक का प्रभाव चिकित्सकीय होता है।

world music day