अलीराजपुर में राशन दुकानों पर हो रही थी हेराफेरी, विधायक मुकेश पटेल के निरीक्ष्ण के दौरान सामने आई सच्चाई

जिले की कई राशन दुकानों पर गरीबों के राशन की हेराफेरी लगातार जारी है। यह बात विधायक मुकेश पटेल के निरीक्ष्ण के दौरान सामने आई।

अलीराजपुर, यतेन्द्रसिंह सोलंकी। अलीराजपुर (Alirajpur) में कई राशन दुकानों (ration shops) पर गरीबों के हक के राशन की हेराफेरी लगातार जारी है। जिसे रोकने में प्रशासन पूरी तरह से नाकाम साबित हो रहा है। कुछ दुकानों पर औपचारिक कार्रवाई का दिखावा कर जिम्मेदारों ने अपने कर्तव्य की इतिश्री कर ली। जबकि राशन वितरण में बेतहाशा धांधली बदस्तूर जारी है। ये बात विधायक मुकेश पटेल (MLA Mukesh Patel) ने ग्राम साकडी में राशन दुकान के निरीक्षण के दौरान मिली अनियिमितता के बाद कही।

यह भी पढ़ें…खरगोन : पूर्व सीएमओ राधेश्याम मण्डलोई ने तबादले के 85 दिन बाद अचानक संभाला पदभार, कर्मचारी अचंभित

दरअसल विधायक पटेल शनिवार को अचानक ग्राम साकडी स्थित शासकीय उचित मूल्य की दुकान पर निरीक्षण करने पहुंचे। यहां उन्होने हितग्राहियों से राशन वितरण के संबंध में जानकारी ली, तो पता चला कि किसी हितग्राही को 8 किलो राशन कम मिला, तो किसी को 10 किलों राशन कम मिला। यहां इतनी चालाकी से काम किया जा रहा था कि राशन वितरण में हो रही गड़बड़ी को कोई भांप नहीं सके। राशन दुकान से वितरक द्वारा कई हितग्राहियों को राशन को कम दिया गया। परंतु हितग्राही के राशन कार्ड में एंट्री निर्धारित मात्रा में राशन प्रदान करने की दर्ज की जा रही थी। ताकि गड़बड़ी का पता नहीं चल सके। यहां स्टॉक रजिस्टर और वितरण रजिस्टर भी नहीं था और मनमानीपूर्ण तरीके से राशन वितरण किया जा रहा था।

आदिवासियों के साथ छलावा
विधायक पटेल ने राशन वितरण में लगातार जारी अनियमितता, मनमानी और हेराफेरी के खिलाफ मुखर होते हुए कहा कि आखिर आलीराजपुर जिले के भोले भाले आदिवासियों के साथ राशन वितरण में छलावा क्यों किया जा रहा है? हर परिवार और पात्र व्यक्ति को शासन द्वारा निर्धारित मात्रा में राशन देने में क्या परेशानी आ रही है? सरकार पर्याप्त आवंटन प्रदान कर हर परिवार के हिसाब से निर्धारित मात्रा में राशन जिले में भेज रही है। तो सरकार की मंशा के खिलाफ कौन लोग कार्य कर रहे है और उन लोगों के खिलाफ कोई कार्रवाई क्यों नहीं की जाती है? जिन जिम्मेदारों पर राशन वितरण, मानीटरिंग और हर परिवार तक निर्धारित मात्रा का राशन पहुंचाने की जवाबादारी है। उन्होंने अब तक क्या मानीटरिंग की और क्या लेखा जोखा रखा? जिन परिवारों तक राशन नहीं पहुंचा उन तक राशन पहुंचाने के लिए क्या कवायद की गई?

लगता है सरकार सो गई, नींद से जागने का किया आव्हान
इस मामले में विधायक मुकेश पटेल ने कहा कि जिले में राशन वितरण में हो रही धांधली को लेकर सरकार सो गई है। उन्होने सरकार से नींद से जागने का आव्हान करते हुए कहा कि गरीबों तक नि:शुल्क राशन पहुंचाने की योजना बहुत अच्छी है। और इससे गरीब लोग अपना जीवन यापन कर भी रहे है। परंतु कुछ लोगों की बदनियति के कारण गरीबों तक उनके हक का राशन निर्धारित मात्रा में नहीं पहुंच पा रहा है। ऐसे में सरकार को आगे आकर मैदानी स्तर पर ये पता जरूर लगाना चाहिए की हर परिवार तक निर्धारित मात्रा में राशन पहुंच रहा है या नहीं। विधायक पटेल ने कहा कि जिले के सभी परिवारों को निर्धारित मात्रा में राशन प्रदान नहीं किया गया तो धरना प्रदर्शन और आंदोलन किया जाएगा।

अलीराजपुर में राशन दुकानों पर हो रही थी हेराफेरी, विधायक मुकेश पटेल के निरीक्ष्ण के दौरान सामने आई सच्चाई

यह भी पढ़ें…MP News: किसानों की आय वृद्धि के लिए शिवराज सरकार का फैसला, शुरू की यह नवीन योजना