मालगाड़ी

अनूपपुर, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के अनूपपुर जिले से बड़ी खबर मिल रही है। यहां छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बिलासपुर से कोयला ले आ रही मालगाड़ी (coal freight train)के डिब्बे अनूपपुर के पास पटरी से उतर गए।यह हादसा वेंकटनगर से निगौरा के बीच हादसा हुआ। बताया जा रहा है कि अजान नदी पर बने पुल पर पटरी में क्रेक के कारण  मालगाड़ी के 15-20 डिब्बे नदी में गिरने की खबर है। सूचना मिलते ही रेलवे के अफसर और इंजीनियर की टीम मौके पर पहुंच गई है और रेस्क्यू जारी है। वही रेल परिचालन बाधित ना हो इसके लिए पहली और दूसरी लाइन से धीमी गति में अन्य ट्रेनों(Train) को निकाला जा रहा है

यह भी पढ़े.. MP Board: 9वीं से 12वीं के छात्रों के लिए बड़ी खबर, 30 सितंबर तक भरें जाएंगे परीक्षा फाॅर्म

मिली जानकारी के अनुसार,  यह मामला अनूपपुर से करीब 25 किलोमीटर दूर बिलासपुर मार्ग के निगौरा स्टेशन का है। यहां दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे अंतर्गत बिलासपुर (bilaspur) से कटनी रेलखंड में शुक्रवार शाम बिलासपुर से कटनी कोयला लेकर जा रही एक मालगाड़ी की कई बोगियां जैतहरी और वेंकट नगर रेलवे स्टेशन के मध्य निगौरा स्टेशन के समीप एक नदी पर बने पुल में जा गिरी। करीब 15-20 बोगियां मालगाड़ी के पिछले हिस्से की पटरी से पुल पार करते समय नीचे गिर गई ।हालांकि कोई हताहत नहीं हुआ है। सूचना मिलते ही सभी रेलवे (Railway) के बड़े अधिकारी मौके पर पहुंच गए है और राहत-बचाव कार्य शुरु कर दिया है।

यह भी पढ़े… MP Weather Alert: मानसून ने पकड़ी रफ्तार, मप्र के इन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

खबर मिल रही है कि मालगाड़ी के गिरने से रेल यातायात ज्यादा प्रभावित नही हुआ है। दो अन्य लाइन सुरक्षित होने के कारण यात्री ट्रेनों का आवागमन उधर से किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि छत्तीसगढ़ के कुष्मांडा खदान से यह मालगाडी कोयला सप्लाई करने जबलपुर की तरफ पावर प्लांट की ओर जा रही थी। मालगाड़ी बिलासपुर से छूटने के बाद अप लाइन में दौड़ रही थी। निगौरा रेलवे स्टेशन से करीब 3 किलोमीटर पहले अलान नदी पर बने जरेली नदी पुल पर यह हादसा हुआ। मालगाड़ी गाडरवारा रेलवे साइडिंग NTPV जा रही थी। फिलहाल राहत और बचाव कार्य जारी है।

MP में रेल हादसा: कोयले से भरी मालगाड़ी के कई डिब्बे पुल से नीचे गिरे, कोई हताहत नहींं MP में रेल हादसा: कोयले से भरी मालगाड़ी के कई डिब्बे पुल से नीचे गिरे, कोई हताहत नहींं