लोकायुक्त की कार्रवाई, पशुपालन विभाग के बाबू 6500 रूपए की रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार

विभाग के एक कर्मचारी हरि सिंह ने लोकायुक्त को शिकायत की थी कि उनके विभाग का बाबू 1लाख रु जीपीएफ के निकालने के एवज में उनसे 7000 रु की रिश्वत मांग रहा है।

अशोकनगर, हितेंद्र बुधौलिया| पशुपालन विभाग के उपसंचालक के कार्यालय में पदस्थ बाबू राकेश यादव (rakesh yadav) को ग्वालियर लोकायुक्त पुलिस ने 6500 की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया है। बाबू अपने ही विभाग के कर्मचारी के जीपीएफ के पैसे निकालने के एवज यह राशि मांग रहा था।

लोकायुक्त ग्वालियर टीम ने आज करीब 12:00 बजे के आसपास पशुपालन विभाग के उपसंचालक कार्यालय में अचानक छापामार कार्रवाई की। इस दौरान उन्होंने यहां के बाबू को 6500 की रिश्वत लेते हुए पकड़ लिया। विभाग के एक कर्मचारी हरि सिंह ने लोकायुक्त को शिकायत की थी कि उनके विभाग का बाबू 1लाख रु जीपीएफ के निकालने के एवज में उनसे 7000 रु की रिश्वत मांग रहा है।

Read More: बीजेपी विधायक की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव, सीएम शिवराज ने की स्वास्थ्य लाभ की कामना

इसी शिकायत के बाद लोकायुक्त ने बाबू राकेश यादव को ट्रैप करने की योजना बनाई और आज जैसे ही हरि सिंह ने उसे रिश्वत के पैसे दिए लोकायुक्त की टीम ने उसे पकड़ लिया। बाबू का कहना है कि उसे जानबूझकर फंसाया गया है